Home » मूवी रिव्यु » Blank Movie Review: Karan Kapadia’s bombarding debutant alongside Sunny Deol, narrates the saga of revenge
 

Blank Movie Review: बम, बदला और फर्ज की कहानी है 'ब्लैंक', शानदार है हर एक किरदार

दीपाली श्रीवास्तव | Updated on: 1 May 2019, 10:11 IST
Blank Movie Review

फिल्म: ब्लैंक

डायरेक्टर: बहजाद खम्बाटा

स्टार कास्ट: सनी देओल, करण कपाड़िया, जमील खान, करणवीर शर्मा, इशिता दत्ता

मूवी टाइप: एक्शन-थ्रिलर

फिल्म 'ब्लैंक' का डायरेक्शन बहजाद खम्बाटा ने किया है और जो कि डायरेक्शन की दुनिया में पहली बार कदम रखने जा रहे हैं. फिल्म एक्शन-थ्रिलर फिल्म है और डायरेक्टर बहजाद ने सभी किरदारों को बिल्कुल सही से चुना है. फिल्म 'ब्लैंक' में डेब्यू डायरेक्शन के साथ ही एक्टिंग में डेब्यू किया है एक्टर करण कपाड़िया ने इसके अलावा सनी देओल,करणवीर शर्मा,इशिता दत्ता फिल्म में लीड रोल में हैं. तो आइये जानते है कि फिल्म में एक्टिंग किसकी बेहतरीन है और फिल्म की कहानी क्या है-

कुछ ऐसी है कहानी ब्लैंक की-

फिल्म 'ब्लैंक' की कहानी काफी अलग और मजेदार है जो कि आपको आखिरी तक सीट से बांधे रखेगी. तो कहानी शुरू होती है हनीफ (करण कपाड़िया) से जिनके सीने में लाइव बम लगा हुआ है और दंगो में हुए उन्हें अपने पिता का बदला लेना है. लेकिन वो पुलिस के हाथ लग जाता है और एटीएस ऑफिसर दीवान (सनी देओल) उससे पूछताछ करते हैं लेकिन उसे कुछ याद नहीं होता है. तो वहीं खबर होती है कि कई धमाके होने वाले है मुंबई शहर में जिसके पीछे पूरी पुलिस फोर्स लगी होती है और इसमें अहम किरदार है करणवीर शर्मा, हुस्ना (इशिता दत्ता) जो कि पुलिस ऑफिसर है.

 

Blank Movie Review

एक शख्स के सीने पर लाइव बम लगा हुआ है उसी से 24 और भी बम जुड़े हुए है और साथ ही आतंकवादी सरगना का किरदार निभा रहे जमील खान भी सभी को तालिम देते है कि मौत से जन्नत मिलेगी. तो जिम्मेदारी होती है शहर को बचाने की और दूसरी तरफ हनीफ जिसके सीने में लाइव बम है उसका बदला है. इन सबके बीच है फिल्म का संस्पेंस और थ्रिलर जो कि आपको अंत तक सीट से बांधे रखेगा. फर्स्ट हाफ यूं ही निकल जाएगा पता ही नहीं चलेगा और सेकेंड हाफ में आपको कहानी काफी दिलचस्प मोड़ पर ले आएगी.

जानिए कैसी है एक्टिंग-

फिल्म 'ब्लैंक' में अगर एक्टिंग की बात करें तो एक्टर सनी देओल भले ही राजनीति में शामिल हो गए हो लेकिन फिल्मों में वहीं पुराना दम-खम दिखा. सनी के जबरदस्त डायलॉग के साथ तूफानी भरी एक्टिंग को देखकर आप तालियां बजाने पर मजबूर हो जाएंगे. इसके साथ ही करण कपाड़िया ने भले ही डेब्यू किया हो लेकिन उनकी एक्टिंग भी कमाल की थी एक-एक सीन को बांधे रखा और सुसाइड बॉम्बर के तौर पर जो भूमिका थी उसे बखूबी अंजाम दिया. करणवीर शर्मा और इशिता दत्ता और जमील खान भी अपने किरदार में खूब अच्छे दिखें.

इसलिए देखें फिल्म-

फिल्म के डायलॉग्स अच्छे हैं और बैकग्राउंड म्यूजिक पर भी अच्छा काम किया गया है. फिल्म का अंत काफी खूबसूरत है, और सस्पेंस आपको अंत तक आपको बांधकर रखेगा. इसके साथ ही सनी पाजी की दमदार एक्टिंग एक बार फिर आपका दिल जीत लेगी. तो एक बार आप फिल्म देखने जरूर जा सकते हैं और फिल्म आपको बोर नहीं करेगी फुल पैसा वसूल फिल्म है 'ब्लैंक'. 

नोट: हम फिल्म को कोई भी स्टार नहीं दे रहे हैं क्योंकि मुझे लगता है कि रेटिंग देकर हम ये तय कर देते है कि फिल्म कैसी है लेकिन ये नहीं सोचते की फिल्म को बनाने में कितनी मेहनत लग रही है. मुझे ये फिल्म अच्छी लगी अब आप तय करें कि आपको फिल्म देखनी है कि नहीं.

गुरदासरपुर से बीजेपी उम्मीदवार सनी देओल पर है 50 करोड़ रुपये का कर्जा, नामांकन में हुए कई और खुलासे

First published: 1 May 2019, 10:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी