Home » मूवी रिव्यु » Junglee Movie Review: Vidyut Jammwal leaps to the rescue of save elephants in an efficient action drama
 

Junglee Movie Review: विद्युत जामवाल और हाथियों की दोस्ती है शानदार लेकिन कहानी नहीं जीत पाई दिल

दीपाली श्रीवास्तव | Updated on: 29 March 2019, 9:11 IST
Junglee Movie Review

फिल्म: जंगली

डायरेक्टर: चक रसेल

स्टार कास्ट: विद्युत जामवाल, पूजा सावंत, आशा भट, अतुल कुलकर्णी, मकरंद देशपांडे, अक्षय ओबरॉय

रेटिंग: 2.5 स्टार

हॉलीवुड डायरेक्टर चल रसेल द्वारा निर्देशित फिल्म 'जंगली' आज सिनेमाघरों में रिलीज हो गई है. चक रसेल पहली बार बॉलीवुड की फिल्म का डायरेक्शन कर रहे हैं और हॉलीवुड में चक को ब्लॉकबस्टर फिल्मों 'द मास्क','इरेज़र' और 'द स्कोर्पियन किंग' के लिए जाना जाता है. इस बार चक ने अपना हाथ बॉलीवुड फिल्म 'जंगली' पर आजमाया है. फिल्म 'जंगली' में एक्टर विद्युत जामवाल लीड रोल में हैं और जैसा कि फिल्म का नाम है जंगली वैसा ही जंगल इसमें आपको देखने को मिलेगा लेकिन इसमें कई जानवरों से आप नहीं मिलेंगे बस एक पर ही आपका ध्यान रखा जाएगा. हमारे देश में ये भी एक बढ़ती समस्या है कि जानवर खत्म होते जा रहे हैं और डायरेक्टर ने उसी की कहानी को फिल्म में पेश किया है. आइये जानते है फिल्म की कहानी के बारे में-

'जंगली' की झलक-

हमारे देश में ये भी एक बढ़ती समस्या है कि जानवर खत्म होते जा रहे हैं और डायरेक्टर ने उसी की कहानी को फिल्म में पेश किया है और 'जंगली' की कहानी शुरू होती है जंगल से जहां कई हाथी होते है और उनकी सेवा और उनको बचाने का जिम्मा बाबा और शंकरा (पूजा सावंत) ने ले रखा है. तो वहीं बाबा के बेटे राज (विद्युत जामवाल) जो कि मुंबई में जानवरों का डॉक्टर है. वो इस बार अपने गांव अपनी मां के बर्सी पर करीब 10 साल बाद आने वाला है. 

राज के साथ एक पत्रकार मीरा (आशा भट) भी गांव यानि जंगल आ जाती है. यहां पर एक शिकारी (अतुल कुलकर्णी) है जो कि पैसों के लिए हाथी के दांतों की तस्करी करता है और इसी वजह से हाथियों को मारकर उनके दांत निकाल लेता है. जब शिकारी हाथियों के दांत लेने के लिए उन्हें मारने आता है तो कुछ ऐसा हो जाता है कि राज पूरी तरह से बदल जाता है. इतना ही नहीं इसके बाद फिल्म में जो एक्शन सीन्स की बारिश होती है वो काफी शानदार है. जंगली में हाथियों को बचाने की इस कोशिश को देखने एक बार आप थिएटर तक जरूर जाइये.

Junglee Movie Review

किरदारों की अदाकारी-

विद्युत जामवाल की एक्टिंग अच्छी है हां ये भी कह सकते हैं कि एक्टर ने एक्शन सीन्स ताबड़तोड़ किए हैं. तो वहीं एक्ट्रेस पूजा सावंत और आशा भट ने भी अपने किरदारों पर ठीक-ठाक काम कर लिया है. इसके बाद अतुल कुलकर्णी ने एक्टिंग जबरदस्त की तो वहीं मकरंद देशपांडे कुछ खास नहीं रहें. इसके अलावा फिल्म में मौजूद सभी किरदारों ने भी अपने रोल में मेहनत की है.

Junglee

'जंगली' देखें या नहीं-

खास तौर पर फिल्म 'जंगली' को देखने आप इसलिए जा सकते है क्योंकि ये एक एक्शन ड्रामा फिल्म है और इसमें हाथियों को बचाने की एक कोशिश पर कहानी आधारित है. साथ ही बच्चों के लिए ये फिल्म शानदार है लेकिन अगर आप विद्युत जामवाल के फैन है तो भी इस फिल्म को देख सकते हैं. लेकिन अगर आप ये सोच कर जा रहे हैं कि फिल्म बहुत मनोरंजक है तो मत जाइये क्योंकि इसकी कहानी कुछ खास नहीं है. कह सकते है कि हाथी के दांत खाने के कुछ और दिखाने के कुछ और.

कॉमेडी एक्टर राजपाल यादव 3 महीने बाद जेल से हुए रिहा, बोले- मेरे भरोसे का..

  

First published: 29 March 2019, 9:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी