Home » मूवी रिव्यु » Sachin A Billion Dreams Review sachin tendulkar biopic documentary
 

Sachin A Billion Dreams Review: स्टेडियम से संसद आैर सिल्वर स्क्रीन तक का सफ़र

कैच ब्यूरो | Updated on: 26 May 2017, 13:54 IST

सचिन:ए बिलियन ड्रीम्स में सचिन तेंदुलकर ने ख़ुद अपना किरदार निभाया है. यह फिल्म एक स्पोर्ट्स डॉक्यूमेंट्री है. इसमें सचिन की ज़िंदगी और क्रिकेट जगत में उनके योगदान और मेहनत को दिखाया गया है. जानते हैं कैसा है मास्टर ब्लास्टर की फिल्म का रिव्यू: 

जनसत्ता: 
इस फिल्म के लिए आप कह सकते हैं कि डायरेक्टर जेम्स एर्सकीन ने सचिन को एक कुर्सी पर बैठाया है और एक अलग अंदाज में कहानी को पेश किया है. फिल्म में सचिन के बचपन की झलक देखना एक बेहतरीन एक्सपीरियंस है. फिल्म के जरिए सचिन की पर्सनल लाइफ से भी रूबरू होने का मौका मिलेगा. सचिन:ए बिलियन ड्रीम्स में आपको सचिन की फैमिली वीडियोज भी देखने को मिलेंगी. इस फिल्म में कई पुराने ऐतिहासिक मैच की यादें भी ताजा होंगी. यादों के सुहाने सफर के अलावा इसमें क्रिकेट से जुड़ी बड़ी कंट्रोवर्सी भी शामिल है. फिल्म में सचिन की खराब परफॉर्मेंस के बारे में भी बात की गई है.

टाइम्स आॅफ इंडिया: 
जब कोई शख्स क्रिकेट की अंतरात्मा और देश के लोगों की सामूहिक आवाज हो तो उस शख्स को फिल्म का मुख्य किरदार बनाकर उस पर फिल्म बनाना मुश्किल काम है. लिहाजा जेम्स एर्सकीन सचिन को मूर्ति के तौर पर सामने रखकर एक ऐसी कहानी कहते हैं, जिसमें अस्वाभाविक और बनावटी भक्ति और श्रद्धा दिखती है. सचिन के बचपन के बारे में देखना और जानना मज़ेदार है. वैसे फुटेज जिसमें सचिन अपने पर्सनल स्पेस में अपनी पत्नी अंजली, बच्चे अर्जुन, सारा और बाकी परिवार के सदस्यों और दोस्तों के साथ दिख रहे हैं.

आजतक:
फिल्म में विश्व स्तर के महानतम क्रिकेट खिलाड़ी सचिन की पर्सनल और प्रोफेशनल लाइफ को दर्शाने का प्रयास किया गया है, जिससे शायद दर्शक कम अवगत हों. सचिन तेंदुलकर के साथ-साथ उनकी पत्नी अंजली, बेटा अर्जुन और बेटी सारा भी इस फिल्म का हिस्सा हैं, जिन्हें बहुत ही कम बातचीत करते हुए देखा गया है. फिल्म में सचिन के सपनों को दर्शाया गया है. साथ ही क्रिकेट के अलग-अलग फेज में स्ट्रगल भी दिखाई गई है. बचपन में लोगों को टायर पंक्चर कर देने वाला नटखट लड़का किस तरह से अपनी बहन सविता के द्वारा क्रिकेट का बैट पाकर बेहद खुश होता है और फिर भाई अजित के साथ रमाकांत अचरेकर गुरु के सानिध्य में क्रिकेट की ट्रेनिंग लेता है, यह सभी बातें बखूबी दर्शाई गई हैं.

फिल्म की लागत तकरीबन 30 करोड़ बताई जा रही है और इसे लगभग 1200 स्क्रीन्स पर रिलीज किया जा रहा है. फिल्म को हिंदी के साथ-साथ अंग्रेजी, मराठी, तमिल और तेलुगू भाषाओं में भी रिलीज किया जाने वाला है. सचिन की इस फिल्म को केरल, ओडिशा और छत्तीसगढ़ में पहले ही टैक्स फ्री कर दिया गया है और पहले वीकेंड से बहुत बड़ी उम्मीद की जा रही है. 

First published: 26 May 2017, 13:54 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी