Home » बॉलीवुड » Akshay Kumar: Direct Dil Se no lock made without a key suicide is not the solution
 

Direct Dil Se: कम नंबर पाने वालों को अक्षय ने दी बड़े काम की सलाह

कैच ब्यूरो | Updated on: 3 May 2017, 15:49 IST

बॉलीवुड अभिनेता अक्षय कुमार ने एक वीडियो के जरिए कम नंबर पाने वाले छात्रों से अपील की है. दरअसल अक्षय को 64वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार के लिए श्रेष्ठ अभिनेता चुना गया है. उन्हें फिल्म रुस्तम और एयरलिफ्ट के लिए ये अवॉर्ड मिला है. 

अक्षय कुमार ने अवॉर्ड समारोह से पहले फेसबुक लाइव के जरिए अपने प्रशंसकों से बात की. अक्षय ने #DirectDilSe के जरिए एक वीडियो शेयर किया है. इसमें अक्षय ने अपने फैन्स को शुक्रिया कहने के साथ ही छात्रों के लिए खास संदेश दिया है.

 

'मैं भी फेल हुआ था'

अक्षय ने एक आईआईटी छात्र के सुसाइड की खबर का जिक्र करते हुए कहा कि इस घटना ने उनको बुरी तरह हिलाकर रख दिया था. आईआईटी खड़गपुर के एक छात्र ने कथित रूप से पढ़ाई के दबाव में आकर खुदकुशी कर ली थी.

अक्षय ने कहा कि एग्जाम में एक बार उनके नंबर भी कम आए थे और वह फेल हो गए थे. तब मेरे पिता ने मुझसे पूछा कि मैं क्या करना चाहता हूं? अक्षय ने कहा कि जब उन्होंने पिता को बताया कि उनकी रुचि खेल में है, तो पापा ने कहा कि खेल के साथ ही थोड़ा पढ़ाई पर भी ध्यान दें. अक्षय ने छात्रों से सवालिया लहजे में कहा कि क्या आत्महत्या से हर समस्या सुलझ जाती है? 

'हर ताले की चाबी होती है'

5 मिनट के इस वीडियो में अक्षय ने बताया कि रिपोर्ट के मु‍ता‍बिक करीब 8 लाख लोग दुनिया भर में आत्महत्या कर लेते हैं और इनमें से डेढ़ लाख मामले अकेले भारत के हैं. इसकी बड़ी वजह है पढ़ाई और रिश्तों के टूटने का दबाव.

अक्षय ने पूछा कि क्या जान मार्क्सशीट से सस्ती है और क्यों ऐसा कदम उठाने वाले कभी अपने मां-बाप के बारे में नहीं सोचते. जवानों से सीख लेने की बात के साथ अक्षय कुमार ने नसीहत दी, "अगर मरना है तो सरहद पर चले जाओ. जैसे हर ताले की चाबी होती है, उसी तरह हर समस्या का उपाय है. खुदकुशी करने से कोई समस्या नहीं सुलझती."

First published: 3 May 2017, 15:49 IST
 
अगली कहानी