Home » बॉलीवुड » Alia Bhatt lights up many lives in Kikkeri village of Mandya District Bengaluru
 

आलिया भट्ट के इस नेक काम से गांव की बदली सूरत, लोगों ने जताई ये ख्वाहिश

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 July 2018, 14:33 IST

बॉलीवुड एक्ट्रेस आलिया भट्ट ने एक ऐसा नेक काम किया जिसकी वजह से एक गांव के करीब 40 परिवार उनको लाखों दुआएं दे रहे हैं. आलिया ने ये नेक काम बेंगलुरु के मांड्या जिले के किक्केरी गांव में किया है. दरअसल यहां के लोगों ने अपने 25 सालों के इतिहास में पहली बार रात में कोई बल्व जलते देखा है.

जीं हां, आलिया भट्ट की पहल से इस गांव में बिजली पहुंच गई है. बताया जा रहा है कि किक्केरी गांव के लोगों ने लगभग 25 साल पहले मैसूर रोड की तरफ एपीएमसी यार्ड के पास अपनी कुछ झोपड़ियां बनाई थीं. जो अब बढ़कर लगभग 40 हो गई हैं. इन 40 झोपड़ियों को आलिया भट्ट ने रोशन करा दिया है.

इस गांव के एक निवासी ने कहा, “मैंने सुना है कि आलिया भट्ट एक एक्ट्रेस(उनकी भाषा में हीरोइन) हैं, लेकिन मैंने कभी भी उन्हें नहीं देखा. पर हम लोगों के लिए तो वो हमारे जीवन की रोशनी बन गयी हैं,” आपको बता दें, हाल ही में आलिया भट्ट ने एक पहल शुरू की थी, जिसकी वजह से यहां बिजली पहुंची है.

दरअसल, आलिया भट्ट ने ‘मी वार्डरॉब इज सू वार्डरॉब’ नाम से के एक पहल शुरू की थी. इसी पहल के अंतर्गत आलिया के फैन उनकी वार्डरॉब से कुछ भी खरीद सकते हैं. इस काम से जो भी पैसा इकठ्ठा होता है उसे नेक काम में लगाया जाता है. इसी पैसे से किक्केरी गांव में सोलर लाइट लगाई गयी हैं.

गांव के एक निवासी का कहना है, “मैं आलिया का शुक्रगुजार हूँ. इससे पहले भी हम अधिकारियों के पास बिजली के लिए अपनी गुहार लेकर गए थे, लेकिन कहीं से भी मदद नहीं मिली. सभी ने सिर्फ वादे किये पर उन्हें कभी भी सच्चाई में नहीं बदला. लेकिन बीते शुक्रवार जब कुछ लोग सोलर लाइट लगाने आये तो हम दंग रह गए थे.”

किक्केरी गांव में बनीं 40 झोपड़ियों में लगभग 200 लोग रहते हैं, जिन्होंने पहली बार अपने घर में रात को उजाला देखा है. बता दें कि आलिया भट्ट ने अपनी पहला से इकट्ठे किए पैसों को बंगलुरु के एक एनजीओ को दान किया था. उसी एनजीओ ने इस प्रोजेक्ट पर काम किया. इस एनजीओ ने प्लास्टिक की बोतलों से सोलर लैंप भी बनाये.

गांव की एक महिला ज़रीना बेगम ने कहा है कि उन्होंने कभी भी शाम के 6:30 बजे के बाद खाना नहीं खाया था. बेगम ने कहा, "मुझे नहीं पता आलिया भट्ट कौन है लेकिन मैं चाहूंगी कि वह एक बार हमारे गांव आये और देखे कि कैसे उन्होंने हमारी ज़िन्दगी को रोशन किया है. अब हमारे बच्चे घर पर रात को भी पढ़ सकते हैं"

First published: 19 July 2018, 14:33 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी