Home » बॉलीवुड » Amitabh Bachchan And Jaya Bachchan Marriage Special
 

जया ने कहा, मैं अमिताभ को कभी नहीं छोडूंगी...

कैच ब्यूरो | Updated on: 3 June 2017, 14:53 IST

3 जून को बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन और जया बच्चन की शादी के 44 साल हो गए हैं. अगर अमिताभ की बात करें तो रेखा खुद ब खुद याद आ जाती हैं. दोनों के प्यार के बीच फंसी जया को अपने पति को पाने के लिए काफी मशक्‍कत करनी पड़ी थी. आइए जानते हैं एक ऐसे किस्से के बारे में जिसके बाद अमिताभ रेखा से हमेशा के लिए दूर चले गए थे.

वो दौर 1977 का था जब रेखा मांग में सिंदूर भरकर और मां बनने की खबरें मीडिया में देकर अमिताभ से रिश्ता जगजाहिर करने में लगी थीं. दूसरी तरफ जया शांति से अपने परिवार को बिखरने से बचाने का प्रयास कर रही थीं. एक दिन जब अमिताभ किसी शूटिंग के सिलसिले में मुंबई से बाहर थे. उस दिन जया ने रेखा को फोन किया. जया का फोन उठाने पर रेखा सोच रही थीं कि जया भला-बुरा सुनाएंगी. लेकिन ऐसा नहीं हुआ.

जया ने फोन करके रेखा को अपने घर डिनर पर बुलाया. रेखा सोच रही थी कि जया अपने घर बुलाकर उन्हें बेइज्जत करेंगी और रोना-पीटना मचेगा. रात के वक्त रेखा सज-धजकर जया के घर पहुंचीं. रेखा के मुकाबले जया बिलकुल सादे कपड़ों में थीं. उन्होंने रेखा का स्वागत किया और ढेर सारी बातचीत की. लेकिन इस बातचीत में अमिताभ का जिक्र बिलकुल नहीं था.

जया ने रेखा को अपने घर का इंटीरियर दिखाया, गार्डन दिखाया और काफी सत्कार किया. डिनर के बाद जब रेखा घर लौटने लगीं तो उन्हें विदा करते हुए जया ने एक खास बात कही जिसे सुनकर रेखा के पैरों तले जमीन खिसक गई.
जया ने दरवाजे पर रेखा से कहा 'चाहे कुछ भी हो जाए, मैं अमित को नहीं छोड़ूंगी'.

अगले दिन मीडिया में जया के डिनर और रेखा पर खूब किस्से चले लेकिन न तो जया ने कुछ कहा और न ही रेखा ने मुंह खोला.

इस डिनर के बाद एकाएक अमिताभ की जिंदगी काफी बदल गई. उन्होंने रेखा से दूरी बना ली क्योंकि उन्हें पता चल चुका था कि जया उनके और रेखा के बारे में जान गई हैं लेकिन परिवार की खातिर वो मुंह नहीं खोलेंगी. जानकार कहते हैं कि अगर जया वो डिनर न करतीं तो शायद आज रेखा उनकी जिंदगी में दूसरी औरत बनने में सफल हो गई होतीं.

First published: 3 June 2017, 14:53 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी