Home » बॉलीवुड » amitabh bachchan ask why indians blow the candles and cut the cake its english rituals
 

हैप्पी बर्थडे' पर बोले अमिताभ- अंग्रेज़ हमारे देश में छोड़ गए,लेकिन हिन्दुस्तानी आज तक बने उसके गुलाम

कैच ब्यूरो | Updated on: 24 May 2018, 16:25 IST

बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन हमेशा अपने सोशल मीडिया पर ऐसे पोस्ट करते हैं. जो सबसे अलग होते है और उनकी सराहना करते हैं. ऐसा ही कुछ फिर से हुआ है, अमिताभ बच्चन अक्सर अपनी नातिन नव्या नवेली नंदा तथा पोती आराध्या के लिए जिंदगी की सीख देने वाली पोस्ट लिखते रहते हैं.

 

'बिग बी' ने कुछ ही घंटे पहले अपने ऑफिशियल अकाउंट ट्विटर पर लिखी पोस्ट में कहा कि 'हैप्पी बर्थडे' मनाने की परम्परा अंग्रेज़ हमारे देश में छोड़ गए थे, लेकिन हिन्दुस्तानी आज तक उसके गुलाम बने हुए हैं. अमिताभ बच्चन को केक काटे जाने और खास तौर से मोमबत्ती बुझाकर जन्मदिन मनाने से आपत्ति है, क्योंकि उनके मुताबिक भारतीय संस्कृति में दीपों को प्रज्वलित किया जाता है, उन्हें फूंककर बुझाया नहीं जाता...

 

यही नहीं, बॉलीवुड के शंहशाह ने सवाल भी किया है कि भारतीय लोग जन्मदिन के मौके पर अंग्रेज़ी गीत 'Happy birthday to you' क्यों गाते हैं? उन्होंने जन्मदिन के अवसर पर गाने के लिए एक गीत का सुझाव भी दिया... अमिताभ बच्चन ने सलाह दी है कि भारतीयों को यह गीत गाना चाहिए, "वर्ष नव, हर्ष नव." उन्होंने ट्विटर पर बताया कि यह उनके पिता तथा जाने-माने कवि हरिवंशराय बच्चन का लिखा गीत है, जो हर जन्मदिन पर उनके परिवार में गाया जाता है.

 

इसके बाद एक यूज़र अमित दत्ता ने लिखा, जन्मदिन पर केक की जगह खीर ज़रूर बनाई जानी चाहिए तो वहीं दूसरे यूज़र RYM ने बताया कि उनके घर में जन्मदिन के अवसर पर हलुआ बनाया जाता है.

First published: 24 May 2018, 16:25 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी