Home » बॉलीवुड » Amitabh Bachchan feels cold in volga and share a photo on social media fans gives advice to him
 

अमिताभ ने शेयर की ऐसी तस्वीर कि आ गई लाइक्स की बाढ़

कैच ब्यूरो | Updated on: 16 July 2018, 17:09 IST

बॉलीवुड महानायक अमिताभ बच्चन सोशल मीडिया पर हमेशा ही एक्टिव रहते है और अपने फैंस के लिए कुछ ना कुछ शेयर करते रहते हैं. इस बीच महानायक ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर एक फोटो शेयर की है जिसमें वो ठंड से बचते नजर आ रहे हैं. इस पर उनके फैंस ने कई कमेंट्स भी किए है और कुछ ने तो उनको ठंड से बचने के कई सुझाव भी दे दिए.

 

शेयर की हुई तस्वीर में अमिताभ ने एक व्हाइट कलर की चादर ओढ़ रखी है. इसी पोस्ट को शेटर करते हुए फिल्म 'पिंक'एक्टर ने लिखा,"वोल्गा में ठंड से बचते हुए." इस फोटो के शेयर और पोस्ट होते ही लोग इस पर कमेंट करने लगे और इस पर लाइक्स की बौछार आ गई. मात्र 10 घंटे के अंदर इस फोटो पर 4 लाख से ज्यादा लाइक्स आ चुके हैं. इस फोटो पर कुछ यूजर्स ने "उनकी स्वास्थ्य की कामना की." तो किसी ने कहा,"मर्द को दर्द नहीं होता". एक अन्य यूजर ने लिखा "भूत आया और भूतनाथ 3." 

ET .. !!! Beating the cold on the Volga ..

A post shared by Amitabh Bachchan (@amitabhbachchan) on

इसके साथ ही बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन के फैंस की तादाद जितनी रियल दुनिया में हैं उससे कई ज्यादा सोशल मीडिया पर हैं. सभी जानते है कि अमिताभ की फैन फॉलोइंग सभी बॉलीवुड सेलेब्रिटी से ज्यादा है और अगर कभी भी इसमें कोई गिरावट आती है तो अमिताभ ट्विटर को सीधी धमकी दे देते है. इस बार कुछ ऐसा ही हुुआ है लेकिन इस बार ट्विटर ने पहले ही अपनी वजह साफ कर दी है कि फॉलोवर्स क्यों कम हो गए हैं. अमिताभ के ट्विटर फैंस में 4 लाख 24 हजार फैंस कम हो गए हैं.

ये भी पढ़ें- 'सैक्रेड गेम्स' को लेकर राहुल गांधी ने किया ट्वीट, डायरेक्टर और स्वरा भास्कर ने यूं दिया जवाब

इसकी वजह बताते हुए माइक्रो ब्ल़ॉगिंग साइट ट्विटर ने बताया,फर्जी लॉक किए गए और बॉट अकाउंट्स को हटाने के अभियान में जुटा है. बुधवार को ही कंपनी की ओर से इसकी घोषणी कर दी गई थी. ट्विटर अधिकारी विजया गड्डे ने एक ब्लॉग पोस्ट में लिखा,"ट्विटर पर कई लोगों के फॉलोवर्स की तादाद कम हो सकती है. हम समझ सकते है ये सब कुछ लोगों के लिए आसान नहीं होगा. मगर हम सच्चाई और पारदर्शिता में यकीन रखतें हैं ताकि ट्विटर सार्वजनिक संवाद के लिए विश्वसनीय माध्यम बन सके."

First published: 16 July 2018, 17:09 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी