Home » बॉलीवुड » Baaghi 2 Actress Disha patani says She brings only 500 rs when she came in Mumbai
 

Baaghi 2 की सक्सेज के बाद दिशा पाटनी ने कहा, 500 रुपये लेकर मुंबई आई थी

कैच ब्यूरो | Updated on: 2 April 2018, 12:44 IST

'बागी 2' बॉक्स ऑफिस पर दमदार प्रदर्शन कर रही है. फिल्म ने रिलीज के तीन दिन में ही अपनी लागत करीब-करीब निकाल ली है. इस बात से फिल्ममेकर तो खुश हैं ही साथ ही फिल्म की स्टारकास्ट टाइगर श्रॉफ और एक्ट्रेस दिशा पाटनी भी खुशी के मारे फूली नहीं समा रही हैं. इस फिल्म के लिए जहां टाइगर श्रॉफ की चारो तरफ तारीफें हो रही हैं वहीं, उनकी रियल से रील लाइफ हीरोइन बनकर आईं दिशा पाटनी के भी अभिनय को सराहना हो रही है.

 

दिशा पाटनी अपनी हालिया रिलीज फिल्म की परफॉर्मेंस से काफी ज्यादा खुश हैं. दिशा पाटनी ने फिल्म की सक्सेज को लेकर दिए एक इंटरव्यू में उन्होंने अपने जीवन बारे में एक खुलासा किया है. इस बात को जानकार आपको बेहद हैरानी होगी. दरअसल, दिशा पाटनी ने बताया कि जब वह मुंबई आईं थी और स्ट्रगल कर रही थीं तब उनके जेब में सिर्फ और सिर्फ 500 रुपए ही थे.

 

आपको बता दें दिशा पाटनी की ये दूसरी फिल्म है और कलेक्शन के मामले में यह उनकी पहली फिल्म है जो इतना अच्छा बिजनेस कर रही है. इससे पहले वह एमएस धोनी द अनटोल्ड स्टोरी में नजर आईं थीं. हालांकि इस फिल्म में उनका रोल काफी छोटा था लेकिन उनकी क्यूटनेस ने लोगों के दिलों में जगह बनाई थी. लेकिन अब उनकी दूसरी ही फिल्म शानदार कलेक्शन कर रही हो तो उनका खुश होना लाजमी है.

 

ये बात भी बेहद दिलचस्प है कि दिशा पाटनी को कई फिल्मों के लिए रिजेक्ट भी किया जा चुका है. लेकिन वो इस बात को पॉजिटिव लेते हुए कहती हैं, "जब आपके साथ ऐसा कुछ होता है तो आप गिरने के बजाय उठते हैं और आपको ये पता चलता है कि आप अभी इस चीज के लिए तैयार नही हैं और आपको जी तोड़ मेहनत करनी है." दिशा पाटनी ने बताया कि उनको ऐसा लगा कि अब मुंबई जाकर अपने सपने पूरे करने का समय है तब वो कॉलेज में थी और मुंबई आ गई.

ये भी पढ़ेंः बर्थडे स्पेशलः बॉलीवुड के डार्क हॉर्स हैं अजय देवगन, जानें तमाम दिलचस्प बातें

इसी कड़ी में दिशा आगे बताती हैं, "उनके पास सिर्फ 500 रुपए थे जब वो मुबंई आईं. वो अपने स्ट्रगल के दौर में घर से पैसे नहीं मांगना चाहती थीं. शहर बिल्कुल नया था और वो अकेले रहती थीं और कई प्रॉबलम फेस करती थीं. दिशा बताती हैं कि उनके पास जॉब नहीं था और वो सोच रही थीं अगर उनको जल्दी जॉब नहीं मिली तो वो कमरे का किराया कैसे देंगी."

First published: 2 April 2018, 12:44 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी