Home » बॉलीवुड » black buck population increased in rajasthan due to salman khan booked for poaching
 

सलमान खान की वजह से राजस्थान में काले हिरण की जनसंख्या में भारी बढ़ोतरी

कैच ब्यूरो | Updated on: 6 April 2018, 8:48 IST

राजस्थान में सलमान खान पर दो काले हिरणों को मरने का केस जब से चल रहा है तब से राज्य में काले हिरणों की जनसंख्या में काफी हद तक बढ़ोत्तरी हुई है. राजस्थान राज्य वन विभाग के आंकड़ों से ऐसा पता चलता है.
राजस्थान वन विभाग के वन्य जीव जन-गणना  के अनुसार 2016 में राजस्थान में कुल 30,560 काले हिरन थे जो कि 2009 की संख्या से 14,709 ज्यादा हैं. ये गणना आरक्षित वन और अनारक्षित वन दोनों को मिला कर की गयी थी.

अफसरों की माने तो जनसंख्या में ये इजाफा सलमान खान पर हुए केस के बाद लोगों में बढ़ी जागरूकता में वृद्धि के कारण है. सलमान खान केस को पूरे देश में जिस तरह तरह दिखाया गया उससे लोगों में काले हिरन और इसकी विलिप्त होती प्रजाति के बारे में जागरूकता बढ़ गयी.

ये भी पढ़ें- सलमान खान पहुंचे जोधपुर सेंट्रल जेल, देखें Exclusive तस्वीरें

गुरुवार को सलमान खान को जोधपुर जेल ने ५ साल की सजा सुनाई. जिसकी जमानत के लिए आज कोर्ट में सुनवाई होनी है.
राजस्थान के मुख्य वाइल्ड लाइफ वार्डन जी. वी. रेड्डी के कहा,'' हमे इस बात को भी ख्याल में रखना चाहिए की अब जन गणना  का क्षेत्र भी बढ़ गया है, और आज गणना के तरीकों में भी बेहतरी हुई है. और इस बात से इंकार नहीं किया जा सकता है की काले हिरन की संख्या में इजाफ़ा हुआ है.''

आंकड़े बताते हैं की काला हिरन की जनसंख्या में इजाफा आरक्षित और अनारक्षित दोनों वन्य क्षेत्रों को मिलाकर काफी बढ़ गया है. 2009 में जो संख्या 13,050 थी अब 2013 में 16,560 हो गयी है.

 

रेड्डी ने कहा, ''अवैध शिकार पहले कुछ ही जिलों में होता था जैसे की जालोर, बीकानेर और नागपुर जो की अब काफी काम हो गया है. इसका एक बड़ा कारण है की सलमान खान का जब से इस केस में नाम आया है लोगों की जागरूकता काफी तेजी से इस मुद्दे पर बढ़ी है. सलमान खान के केस की वजह से ये मुद्दा मुख्य-धारा में आ गया. जिसने निश्चर रूप से ही जागरूकता को बढ़ाया.''

ये भी पढ़ें- आसाराम के साथ बैरक में रहेंगे सलमान, जान से मारने की धमकी देने वाला गैंगस्टर भी यहीं है कैद

हालांकि अफसरों का कहना है की अब उनके सामने नए चुनौतियां सामने आ रही हैं. काला हिरन फार्म्स में लगाए गए नायलोन नेट में फंस जाते हैं जिसके बाद कुत्ते उन्हें मार डालते हैं इसका कारण है सिंचित क्षेत्र में बढ़ोत्तरी है. अब पहले की तरह सिंचाई के सीमित संसाधन नहीं हैं. अब कई तरीकों से सिंचाई की जा सकती है जैसे बोरवेल और भी अन्य तरीके जो की पुरानी परंपरागत तरीकों से अलग और आधुनिक हैं.

First published: 6 April 2018, 8:48 IST
 
अगली कहानी