Home » बॉलीवुड » bollywood actress suchitra sen suchitra sen death anniversary filmy carrier
 

अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अवॉर्ड जीतने वाली भारतीय सिनेमा की पहली एक्ट्रेस, राज कपूर को भी कर दिया था मना

कैच ब्यूरो | Updated on: 6 April 2019, 9:10 IST

भारतीय सिनेमा में लगभग तीन दशक तक अपनी दमदार एक्टिंग से मशहूर हुई सुचित्रा सेन की आज बर्थ एनिवर्सिरी है. सुचित्रा सेन एक ऐसी एक्ट्रेल हैं, जो अंतरराष्ट्रीय स्तर पर विशेष पहचान बनाने वाली पहली एक्ट्रेस हैं.

सुचित्रा सेन का जन्म 6 अप्रैल 1931 को पवना (अब बांग्लादेश में है) में हुआ था. इनके पिता करूणोमय दासगुप्ता स्कूल में हेडमास्टर थे. सुचित्रा सेन का असली नाम रोमा दासगुप्ता है, 5 भाई-बहनों में सुचित्रा तीसरी संतान थीं. चलिए जानते हैं इनके जन्मदिन के मौके पर कुछ विशेष बातें-

सुचित्रा सेन की स्कूलिंग पवना से ही हुई है. इसके बाद आगे की पढ़ाई के लिए ये इंग्लैंड चली गईं, जहां से इन्होंने समरविले कॉलेज, ऑक्सफोर्ड से अपना ग्रेजुएशन किया. ग्रेजुएशन करने के बाद 1947 में इनकी शादी बंगाल के मशहूर बिजनेसमैन आदिनाथ सेन के बेटे दीबानाथ सेन से हुई.

फिल्म जगत में सुचित्रा ने 1952 में कदम रखा, इनकी पहली बांग्ला फिल्म 'शेष कोथा' थी, जो रिलीज नहीं हो सकी. इसके बाद 1952 इन्होंने बांग्ला फिल्म 'सारे चतुर' की, जिसमें इनके अपॉजिट उत्तम कुमार थे.

इसके बाद 1963 में सुचित्रा सेन ने अपनी सुपरहिट फिल्म 'सात पाके बांधा' दी, जिसके लिए उन्हें मास्को फिल्म फेस्टिवल में सर्वश्रेष्ठ फिल्म एक्ट्रेस का अवॉर्ड मिला, भारतीय फिल्म इंडस्ट्रीज का ये पहला मौका था, अंतरराष्ट्रीय स्तर पर किसी भारतीय एक्ट्रेस को अवॉर्ड मिला हो.

इसके बाद हिंदी सिनेमा में सुचित्रा सेन की एंट्री 'देवदास' से हुई. ये फिल्म 1955 में रिलीज हुई. सुचित्रा सेन 'देवदास' में पारो का किरदार निभाकर इस फिल्म में जान डाल दी. इसके बाद सुचित्रा सेन 'आंधी' 1975 में रिलीज हुई, जिसमें उन्होंने एक अलग छवि बनाई.

पूल में पत्नी अंकिता संग इस अंदाज में मस्ती करते दिखे मिलिंद सोमन, बोल्ड लुक हुआ वायरल

 अपनी दमदार एक्टिंग के बदौलत सुचित्रा सेन ने हिन्दी सिने जगत में काफी मुकाम हासिल किया. इसकी के साथ उन्होंने बड़े से बड़े फिल्म निर्देशकों के साथ काम करने के प्रस्ताव ठुकराती रहीं. सुचित्रा ने राज कपूर की एक फिल्म में काम करने का प्रस्ताव भी ठुकराया है. फिल्म ठुकराया का रीजन फिल्म ये था कि राज कपूर का झुककर फूल देने का तरीका उन्हें पसंद नहीं आया था.

इस एक्ट्रेस ने कास्टिंग काउच को लेकर किया बड़ा खुलासा, कहा- फिल्म के बदले एक रात के लिए..

First published: 6 April 2019, 9:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी