Home » बॉलीवुड » film padmavati will be release after review by 6 panel member of cbfc, historians and Royal family members
 

सेंसर बोर्ड ने इस वजह से लौटाई थी फिल्म 'पद्मावती', अब रिलीज को लेकर आएगा फैसला

कैच ब्यूरो | Updated on: 28 December 2017, 13:16 IST

फिल्ममेकर संजय लीला भंसाली की ड्रामा पीरियड फिल्म को लेकर एक बड़ी खबर सामने आई है. ये खबर फिल्म की रिलीज को लेकर है. दरअसल, फिल्म 'पद्मावती' के विवाद को सुलझाने के लिए सेंसर बोर्ड ने फिल्म की समीक्षा के लिए एक रास्ता निकाला है. बता दें कि इस फिल्म को लेकर काफी विवाद हुआ था, कई शहरों से फिल्म 'पद्मावती' के विरोध की खबरें सामने आईं थीं.

इसके लिए केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड (सीबीएफसी) ने इतिहासकारों और पूर्व राजघराने के सदस्यों को मिलाकर एक 6 सदस्यीय पैनल बनाया गया है. यह पैनल फिल्म की समीक्षा करने के बाद तय करेगा कि इस मूवी को रिलीज किया जाना है या नहीं?

मीडिया रिपोर्ट्स में कहा जा रहा है कि संजय लीला भंसाली की यह फिल्म फरवरी या मार्च तक रिलीज हो सकती है. हालांकि फिल्ममेकर भंसाली की ओर से इस बारे में कोई ऑफिशियल स्टेटमेंट नहीं आया है. गौरतलब है कि यह फिल्म पहले इसी साल 1 दिसंबर को रिलीज होनी थी, लेकिन करणी सेना की आपत्ति के साथ-साथ राजनीतिक विवाद और फिर सेंसर बोर्ड के लिए भेजे गए आवेदन में कई त्रुटियां पाई गईं थीं. इसके बाद सेंसर बोर्ड ने फिल्म 'पद्मावती' को निमार्ताओं के पास वापस भेज दिया था.

इस बारे में सीबीएफसी ने कहा था कि मेकर्स ने उस कॉलम को खाली छोड़ दिया था, जिसमें यह लिखना था कि यह फिल्म काल्पनिक है या ऐतिहासिक तथ्यों पर आधारित है. इसके अलावा भी फिल्म के कई डॉक्यूमेंट्स में खामियां पाई गईं थीं. इस फिल्म से जुड़ा सबसे बड़ा विषय सेंसर बोर्ड के लिए ये था कि सीबीएफसी ने फिल्म की रिलीज डेट जारी नहीं की थी, उसके बाद भी बिना सेंसर बोर्ड की अनुमति के फिल्म को कुछ खास लोगों को प्राइवेट स्कीनिंग के जरिए दिखाया था.

First published: 28 December 2017, 13:16 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी