Home » बॉलीवुड » Google makes doodle for famous writer and social activist Mahasweta Devi on her 92nd birth anniversary Mahasweta Devi birthday special
 

बर्थडे स्पेशल: पिता से प्रेरणा लेकर बन गईं नेशनल अवॉर्ड विनर राइटर

कैच ब्यूरो | Updated on: 14 January 2018, 11:21 IST

साल 1998 फिल्म एक फिल्म आई थी जिसका नाम था 'हजार चौरासी की मां'. इस फिल्म से महाश्वेता देवी ने लोगों के दिलों में जगह बनाई थी. आज उनकी 92वां जन्मदिन है. इसलिए गूगल ने भी महाश्वेता देवी के जन्मदिन पर उनको याद किया है और एक खास डूडल बनाया है.

आपको बता दें महाश्वेता बांग्ला की लेखिका और उपन्यासकार थीं, उनका जन्म सन 1926 में ढाका (अब बांग्लादेश) में हुआ था. शांति निकेतन से पढ़ाई करने के बाद उन्होंने बीए और एमए इंग्लिश विषय से किया. आगे चलकर उनकी प्रेरणा उनके ही पिता जी बने.

 

 

हालांकि ऐसा कहा भी जाता है कि बच्चों की परवरिश जिस मेहनत और लगन से माता-पिता करते हैं वो जरुर रंग लाती है. लिहाजा महाश्वेता देवी ने लिखने की कला को पिता मनीष घटक से समझा था. उस जमाने में मनीष घटक बतौर कवि और उपन्यासकार के नाम से जाने जाते थे. पिता के ही द्वारा सुझाए रास्तों पर चलकर महाश्वेता देवी एक परांगता लेखक बन गईं. साथ ही साथ वह आदिवासियों के दर्द को समझते हुए उनको उनका अधिकार दिलाने के लिए कई कार्यक्रमों का हिस्सा बनीं.

इसके अलावा महाश्वेता देवी का जितना नाम साहित्य के क्षेत्र में हैं उससे कहीं अधिक फिल्मी दुनिया में भी है. उनकी तमाम कहानियां बड़े परदे पर उतरीं हैं, जिन्होंने लोगों के दिलों में उनके प्रति खास जगह बनाई. है साहित्य और फिल्मों में महाश्वेता जी के अहम योगदान के लिए उनको साहित्य अकादेमी, ज्ञानपीठ और रेमन मेगसायसायर पुरस्कार से भी नवाजा जा चुका है.

उनकी कुछ विशेष फिल्में

First published: 14 January 2018, 11:21 IST
 
अगली कहानी