Home » बॉलीवुड » Javed Akhtar replies to 'PM Narendra Modi' producer Sandip Singh, asks 'Who is he?'
 

'पीएम नरेंद्र मोदी' के पोस्टर पर क्रेडिट देने पर प्रोड्यूसर पर भड़के जावेद अख्तर, बोले- कौन हैं...

कैच ब्यूरो | Updated on: 28 March 2019, 12:12 IST
Javed Akhtar and PM Narendra Modi biopic

देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर बायोपिक बन गई है और फिल्म 'पीएम नरेंद्र मोदी' जल्द ही सिनेमाघरों में रिलीज होने की तैयारी में हैं. तो वहीं फिल्म पर विवादों के बादल भी खत्म होने का नाम नहीं ले रहे हैं और एक के बाद एक मुश्किलें सामने आ रही है. फिल्म 'पीएम नरेंद्र मोदी' के पोस्टर में गीतकारों के नाम दिए गए थे और जिसके बारे में गीतकार जावेद अख्तर और समीर को कोई जानकारी नहीं थी. इसके बाद फिल्म प्रोड्यूसर ने इस बात को साफ भी किया था लेकिन अब जावेद अख्तर इस पर फिर से भड़क गए हैं और उन्होंने इस मामले में कुछ कहा है.  

PM Narendra Modi

अमर उजाला की रिपोर्ट के अनुसार, जावेद अख्तर ने हाल ही में एक समाचार पत्र को इंटरव्यू दिया है और वहां पर उन्होंने फिल्म के प्रोड्यूसर संदीप सिंह पर जानबूझकर उनका नाम फिल्म के पोस्टर में डालने की बात कही और कहा,"फिल्म के निर्माता संदीप सिंह पर जानबूझकर उनका नाम फिल्म के पोस्टर में डालने की बात कही और कहा कि निर्माताओं की मंशा इस बात को लेकर सही नहीं है."

'बिदाई' एक्ट्रेस शादी से पहले ही बनना चाहती हैं मां, अपने रिलेशनशिप को लेकर दिया चौंकाने वाला बयान

आगे जावेद अख्तर ने कहा,"मैं संदीप सिंह को नहीं जानता. जब भी आप किसी पुराना गाना आपकी फिल्म में लेते हैं तो आप गाना लिखने वाले व्यक्ति को क्रेडिट नहीं देते, खासकर उनको जो कि आपके प्रचार का हिस्सा नहीं हैं क्योंकि मैंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की फिल्म के लिए कुछ भी नहीं लिखा है."

PM Narendra Modi

गीतकार जावेद ने आगे कहा,"आप इस तरह से व्यवहार नहीं कर सकते कि मैं इस फिल्म का बतौर गीतकार हिस्सा हूं, आपको अगर हमारा नाम देना ही है तो आपको फिल्म के असली फिल्म 1947 अर्थ का नाम देना चाहिए था, जिसमें से यह गाना लिया गया है. उसके साथ मेरा नाम हो सकता था अगर वह मुझे आदर या सम्मान देना चाहते थे."

'पीएम नरेंद्र मोदी' की बायोपिक को लेकर भड़के सलमान खान, चौंकाने वाली है वजह

अख्तर साहब ने आगे कहा,"अगर उन्होंने मेरे गाने खरीदे हैं तो उन्हें फिल्म '1947 अर्थ' का नाम देना चाहिए था. उसके साथ वह मेरा और ए आर रहमान का नाम दे सकते हैं. लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया क्योंकि उनकी मंशा सही नहीं है. भारतीय फिल्म इतिहास में ऐसी घटना कभी नहीं हुई है. इन दिनों प्रत्येक दूसरे फिल्म में पुराने गाने नए अंदाज में बन रहे हैं लेकिन कभी भी असली गीतकार का नाम फिल्म के पोस्टर पर नहीं आता."

First published: 28 March 2019, 12:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी