Home » बॉलीवुड » Kamal Haasan says No work, no pay for politicians,will soon makes politician to launch his party.
 

'नेताओं के लिए काम नहीं तो वेतन नहीं की नीति जरूरी'

कैच ब्यूरो | Updated on: 15 September 2017, 17:49 IST

अभिनेता कमल हासन ने शुक्रवार को देश के राजनेताओं को लेकर बड़ा बयान दिया. उन्होंने कहा कि रिजॉर्ट में आराम फरमाने वाले नेताओं पर 'काम नहीं तो वेतन नहीं' का फार्मूला लागू क्यों नहीं होता.

कमल हासन ने ट्वीट कर कहा, "सरकारी कर्मचारियों पर ही काम नही तो वेतन नहीं क्यों लागू होता है? रिजॉर्ट में सौदा करने वाले नेताओं के बारे में क्या राय है."

राजनीतिक मामलों के जानकार कमल हासन के इस ट्वीट को तमिलनाडु की सत्ताधारी पार्टी एआईएडीएमके पर हमले के तौर पर देख रहे हैं.

दरअसल, तमिलनाडु सरकार ने कहा है कि हड़ताली शिक्षकों और अन्य कर्मचारियों के भुगतान से उन दिनों का वेतन काटा जाएगा, जब उन्होंने काम नहीं किया, कर्मचारी विभिन्न मांगों के समर्थन में हड़ताल पर हैं.

हासन ने आगे कहा, "माननीय न्यायालय ने हड़ताल कर रहे शिक्षकों को चेतावनी दी है. मैंने अदालत से उन विधायकों के खिलाफ भी इसी तरह ही चेतावनी जारी करने को कहा है, जो काम नहीं करते."

दिलचस्प है कि तमिलनाडु सरकार ने हाल ही में विधायकों के वेतन को दोगुना बढ़ाकर 1,05,000 रुपये प्रति माह कर दिया है. कमल हासन जल्द ही खुद की नई राजनीतिक पार्टी बनाने वाले हैं. रिपोर्टों के अनुसार, अभिनेता तमिलनाडु में स्थानीय निकाय चुनाव लड़ने की योजना बना रहे हैं.

First published: 15 September 2017, 17:49 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी