Home » बॉलीवुड » Karani Sena chief lokendra singh Kalvi u turn on padmaavat film screening before padmaavat release after supreme court order in favour of sa
 

'पद्मावत' पर करणी सेना का यू-टर्न, फिल्म को रिलीज ना करने का किया ऐलान

कैच ब्यूरो | Updated on: 23 January 2018, 13:08 IST

फिल्म 'पद्मावत' को लेकर विवाद बढ़ता ही जा रहा है. मंगलवार को आए सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद भी करणी सेना का विरोध जारी है. इस फिल्म में कुछ बदलावों को लेकर राजस्थान और मध्य प्रदेश सरकार कोर्ट पहुंची थी लेकिन मंगलवार को कोर्ट ने उनकी इस याचिका को खारिज कर फिल्म को पूरे देश में रिलीज करने का आदेश दिया.

 

फिल्म 'पद्मावत' को लेकर लगातार जारी विरोध को देखते हुए फिल्म के मेकर संजय लीला भंसाली ने करणी सेना के प्रमुख को खत भेजकर रिलीज से पहले फिल्म देखने का इनविटेशन दिया था, जिसे सोमवार को करणी सेना के प्रमुख लोकेंद्र सिंह कालवी ने स्वीकार कर लिया. लेकिन जैसे ही सुप्रीम कोर्ट का फैसला फिल्म के पक्ष में आया तो दूसरे ही दिन यानी मंगलवार को उन्होंने अपने फैसले से यू-टर्न लेते हुए रिलीज से पहले पद्मावत फिल्म देखने से साफ इंकार कर दिया.

 

अब फिल्म 'पद्मावत' को लेकर लोकेंद्र सिंह कालवी ने कहा है कि वह अब फिल्म नहीं देखेंगे और फिल्म के खिलाफ अपना विरोध जारी रखेंगे. इसके अलावा विश्व हिंदू परिषद (बीएचपी) के अध्यक्ष प्रवीण तोगड़िया ने भी सुप्रीम कोर्ट के आदेश के खिलाफ सरकार से अध्यादेश लाने की मांग की है.

 

इसके अलावा गुजरात के डिप्टी सीएम नितिन पटेल ने सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद अपने बयान में कहा है कि गुजरात में थियेटर मालिक फिल्म को रिलीज नहीं करेंगे. इस बाबत उन्होंने कहा, "फिल्म 'पद्मावत' के खिलाफ जारी विरोध की वजह से फिल्म को राज्य के थियेटर मालिक रिलीज करने को तैयार नहीं हैं." बता दें कि करणी सेना के सदस्यों ने कई सिनेमाघरों को क्षति पहुंचाई है.

इस फिल्म में बॉलीवुड एक्ट्रेस दीपिका पादुकोण रानी पद्मिनी, शाहिद कपूर राजा महारावल रत्न सिंह और रणवीर सिंह सुल्तान अलाउद्दीनन खिलजी की भूमिका में हैं. बता दें कि सेंसर बोर्ड से तमाम बदलावों के बाद 'पद्मावत' को U/A सर्टिफिकेट मिला है, जिसके बाद फिल्म 25 जनवरी को रिलीज होगी.

First published: 23 January 2018, 13:08 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी