Home » बॉलीवुड » LIPSTICK UNDER MY BURKHA'S SUCCESS IS A WIN FOR CINEMA ekta kapoor
 

'सेंसर बोर्ड और कट्टर समाज के खिलाफ एक जीत है 'लिपस्टिक अंडर माय बुर्का'

कैच ब्यूरो | Updated on: 28 July 2017, 16:24 IST

प्रकाश झा द्वारा निर्मित फिल्म 'लिपस्टिक अंडर माय बुर्का' की प्रस्तोता एकता कपूर का कहना है कि फिल्म की सफलता सिनेमा की जीत है. यह पूछे जाने पर कि फिल्म की सफलता क्या सेंसर बोर्ड और समाज के खिलाफ एक जीत है?

एकता ने बुधवार को कहा, "मैं फिल्मों में कुछ वर्ष पहले आई, इससे पहले मैं टीवी में थी. मेरा व्यक्तिगत तौर पर मानना है कि सभी आपको बता सकते हैं कि फिल्म कैसी थी. लेकिन अच्छी फिल्में दर्शकों तक अपने आप पहुंचती हैं. मुझे लगता है कि यह सिनेमा की बड़ी जीत है."

फिल्म ने अपने पहले दिन 1.22 करोड़ रुपये की कमाई की. वहीं फिल्म के संघर्ष के बारे में उन्होंने कहा, "दो संघर्ष एक साथ थे. एक सेंसर बोर्ड और दूसरा फिल्म की रिलीज. उद्योग में लोग कह रहे थे कि यह फिल्म अपनी रिलीज के पहले दिन 20 लाख रुपये से अधिक नहीं कमा सकेगी और फिल्म ज्यादा समय तक सिनेमाघरों में नहीं टिकेगी."

उन्होंने कहा, "अलंकृता श्रीवास्तव (निदेशक) ने बहुत ही मनोरंजक तरीके से इस तरह के एक संवेदनशील विषय को प्रस्तुत किया है, जिसका लोगों ने समझने के साथ-साथ आनंद भी लिया है." फिल्म 21 जुलाई को रिलीज हुई थी.

First published: 28 July 2017, 16:24 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी