Home » बॉलीवुड » #MeToo: Vikas Bahl victim refused to take legal action against him on sexual harassment case
 

#MeToo: विकास बहल पर आरोप लगाने वाली महिला नहीं पहुंची कोर्ट, वजह है चौंकाने वाली

कैच ब्यूरो | Updated on: 20 October 2018, 11:03 IST

डायरेक्टर विकास बहल पर यौन शोषण का आरोप लगाने वाली पीड़िता शुक्रवार को कोर्ट में पेश नहीं हुई. पीड़िता ने अपने वकील से कहलवाया,"मैं बहुत कुछ सह चुकी हूं और आज मैं तीन साल बाद इस शख्स की वजह से परेशान हो रही हूं."

उन्होंने आगे कहा,"मैं कानूनी कार्रवाई में लिप्त नहीं होना चाहती हूं इसलिए कोई एफिडेविट फाइल नहीं करूंगी.सिर्फ एक बयान जारी करूंगी." बता दें कि पीड़िता ने अपने आरोपों के साथ कहा था कि उसके साथ ये घटना तीन साल पहले हुई थी और उस दौरान उसने डायरेक्टर अनुराग कश्यप से इसकी शिकायत भी की थी लेकिन उन्होंने कोई ठोस कदम नहीं उठाया था.

 

बता दें कि विकास बहल ने अपने पार्टनर अनुराग कश्यप और विक्रमादित्य मोटवानी के खिलाफ मानहानि का 10 करोड़ रुपये का केस दर्ज किया है. साथ ही विकास ने कहा था कि जब तक कोर्ट अपना फैसला ना सुना दें तब तक दोनों लोग उनके बारे में कुछ भी ना लिखे और ना ही कहें. कोर्ट इस मामले में पीड़िता का पक्ष सुनना चाहता था जिसके लिए उन्हें समन किया गया था.

 

 

विकास बहल पर इस केस के चलते कई प्रोजेक्ट उनके हाथ से निकलते चले जा रहे हैं. उनके पार्टनर्स ने तो उनका साथ छोड़ ही दिया था और इसके साथ ही विकास को एक वेबसीरीज से भी बाहर निकाल दिया गया है. वे इसे डायरेक्ट करने वाले थे और ये सीरीज अमेजन प्राइम के लिए बनाई जा रही थी.

First published: 20 October 2018, 11:01 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी