Home » बॉलीवुड » Rishi Kapoor baiography reveals he had chai with Dawood Ibrahim in Dubai
 

ऋषि कपूर ने किया चौंकाने वाला खुलासा, दाऊद के साथ कर चुके हैं चाय पर चर्चा

कैच ब्यूरो | Updated on: 16 January 2017, 11:44 IST

बॉलीवुड अभिनेता ऋषि कपूर एक बार फिर सुर्खियों में हैं. इस बार ऋषि किसी ट्वीट की वजह से नहीं बल्कि अपनी बायोग्राफी की वजह से सुर्खियों में हैं. अपनी बायोग्राफी 'खुल्लम खुल्ला ऋषि कपूर अन्सेन्सर्ड' में ऋषि ने अपनी जिंदगी से जुड़े कई पहलुओं पर खुलकर बात की है. वहीं बायोग्राफी में ऋषि ने एक ऐसी बात का खुलासा भी किया है जो बेहद चौंकाने वाला है. 

बायोग्राफी में ऋषि ने बताया है कि कुछ साल पहले दुबई में उनकी मुलाकात अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम से हुई थी.  ऋषि ने बायोग्राफी में लिखा है कि सन् 1988 में मैं अपने दोस्त बिट्टू आनंद के साथ दुबई एयरपोर्ट पर उतरा था. जब मैं एयरपोर्ट से बाहर निकल रहा था उस वक्त एक अंजान आदमी मेरे पास आया और उसने मुझे फोन पकड़ाया और कहा कि दाऊद साहब बात करेंगे. 

हालांकि ये 1993 में हुए मुंबई हमले से पहले की बात है. तब दाऊद एक भगोड़ा नहीं था और न ही किसी शहर के लिए दुश्मन था. उस वक्त दाऊद ने मेरा स्वागत किया और कहा कि अगर तुम्हें कभी भी किसी भी चीज  की जरूरत पड़े तो मुझे बताना, इतना ही नहीं उसने मुझे अपने घर आने का न्यौता भी दिया. 

ऋषि ने आगे लिखा कि कुछ टाइम बाद मुझे एक लड़के से मिलवाया गया जो ब्रिटिश जैसा दिखता था. वो बाबा था और दाऊद का राइट हैंड था. उसने मुझसे कहा कि दाऊद साहब आपके साथ चाय पीना चाहते हैं. मुझे इसमें कुछ गलत नहीं लगा और मैंने न्यौता स्वीकार कर लिया. उस शाम मुझे और बिट्टू को हमारे होटल से एक चमकती हुई रॉल्स रॉयस में ले जाया गया. वहां बात कुच्ची भाषा में हो रही थी. मुझे कुच्ची भाषा समझ नहीं आती थी लेकिन मेरा दोस्त समझता था. 

हमें ये एहसास हुआ कि हमें किसी गोल सड़क से ले जाया जा रहा है इसलिए हमें लोकेशन सही से समझ नहीं आ रही थी. जब मैं दाऊद से मिला उस वक्त उसने सूट पहना हुआ था. आते ही उसने कहा कि मैं ड्रिंक नहीं करता इसलिए मैंने आपको चाय पर बुलाया और उसके बाद करीब चार घंटे हमने बातचीत की और साथ में चाय पी. ऋषि ने लिखा है कि दाऊद से मेरी कई मुद्दों पर बातें हुईं जिसमें उसकी क्रिमिनल एक्टिविटीज भी शामिल थीं जिस पर उसे कोई पछतावा नहीं था. उसने मुंबई कोर्ट मर्डर का जिक्र करते हुए कहा कि मुझे ठीक से याद तो नहीं है, लेकिन मैंने एक शख्स को शूट किया था. उस शख्स को मैंने इसलिए शूट किया था क्योंकि वो अल्लाह शब्द के खिलाफ जा रहा था और मैं अल्लाह का बंदा हूं इसलिए मैंने उसे शूट किया था. 

First published: 16 January 2017, 11:44 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी