Home » बॉलीवुड » Sanjay Dutt earns 38 thousands rupees but he bring 440 rupees at home because of his spent money on daily things
 

जेल में 38 हजार रुपये कमाने के बाद भी संजय दत्त घर ला पाए थे सिर्फ 440 रुपये

कैच ब्यूरो | Updated on: 29 July 2018, 9:09 IST

जिंदगी की कई साल अंधेरे में गुजारने वाले बॉलीवुड एक्टर संजय दत्त आज अपना 59वां जन्मदिन मना रहे हैं. संजय दत्त का जीवन बड़ा ही उतार-चढ़ाव वाला रहा है. यहां तक कि लोगों ने उन्हें आतंकवादी तक कहा है. हालांकि, संजय दत्त को TADA से बरी कर दिया गया था और बस उनपर Ak 56 रखने का केस चला था. इस केस से भी संजय दत्त करीब 5 साल की सजा काटने के बाद 2016 में बरी हो गए हैं.

इस बार का जन्मदिन संजय दत्त के लिए इसलिए खास है क्योंकि उनके प्रति लोगों का नजरिया काफी हद तक बदला है, वजह है उनकी पिछले महीने रिलीज हुई बायोपिक 'संजू'. इस फिल्म में संजय दत्त के किरदार में बॉलीवुड एक्टर रणबीर कपूर नजर आए हैं. फिल्म ने बॉक्स ऑफिस के कई रिकॉर्ड धराशायी किए हैं. इससे लगता है कि संजय दत्त को जनता ने स्वीकार कर लिया है.


29 जुलाई 1959 को जन्मे संजय दत्त कहते हैं कि अब वह अपना जन्मदिन नहीं मनाते, क्योंकि उन्हें लगता है कि उन्हें कुछ काम करना चाहिए, न कि ये सेलिब्रेशन. संजय दत्त बताते हैं कि उन्होंने जेल में रहने के दौरान कई ऐसी धार्मिक किताबें पढ़ीं, जिन्होंने उनका जीवन पूरी तरह बदल दिया. लेकिन इस बीच एक चौंकाने वाली बात सामने आई है कि संजय दत्त ने जेल में हजारों रुपये कमाए थे.

दरअसल, संजय दत्त ने यरवदा सेंट्रल जेल में अर्द्ध कुशल कामगार के रूप में काम किया था. जेल में रहते हुए संजय दत्त ने पेपर बैग्‍स बनाकर करीब 38 हजार रुपये कमाए थे, लेकिन घर वो केवल 440 रुपये ले जा सके थे. बताया जाता है कि बाकी बचे पैसों को जेल के अंदर उन्‍होंने रोजमर्रा के कामों पर खर्च कर दिया था. संजय को हर रोज 50 रुपये मिलते थे.

First published: 29 July 2018, 9:06 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी