Home » बॉलीवुड » These bollywood films with bold content which is banned by government still available on youtube
 

इन चार अश्लील फिल्मों को भूलकर भी न देखें फैमिली के साथ, बोल्डनेस की वजह से हो चुकी हैं बैन

कैच ब्यूरो | Updated on: 15 November 2018, 15:01 IST

भारत में कई फिल्मों के रिलीज से पहले सेंसर बोर्ड के पास देखने के लिए भेजी जाती है और जब वहां से फिल्म पास हो जाती है उसके बाद ही रिलीज की जाती है. सेंसर बोर्ड हर तरह से फिल्म को जांचता है और उसके बाद ही इसे आगे रिलीज होने के लिए भेजा जाता है. जिससे समाज पर बुरा प्रभाव ना पड़े. फिल्मों में अगर अश्लील कंटेंट होता है तो उसे आगे नहीं बढ़ाया जाता है या फिर उस दृश्य को फिल्म से हटवा दिया जाता है लेकिन कुछ फिल्में ऐसी भी बनी है जो कि अश्लील कंटेंट का भंडार होने के बार रिलीज ही नहीं की गई थी और सरकार ने उनपर बैन लगा दिया था. इसके बाद भी ये फिल्में Youtube पर आसानी से देखने को मिल रही है.

 

ज्यादा नहीं ऐसी चार फिल्में है जिन्हें सरकार ने बैन कर दिया था और आज तक इन्हें रिलीज नहीं किया गया है. इस लिस्ट में सबसे पहले नाम आता है फिल्म 'Unfreedom' का जो कि साल 2015 में बनी थी. इस फिल्म को इसलिए बैन किया गया था क्योंकि इसमें समलैंगिक रिश्तों पर फिल्म को बनाया गया था. इसमें अश्लील कंटेंट काफी थी इस वजह से इसे बैन कर दिया गया था.


 

दूसरी फिल्म का नाम है Sins जो कि साल 2005 में आई थी और ये यशराज बैनर के तले बनाई गई थी. फिल्म में एक पादरी और महिला के बीच संबंध दिखाया गया था. अश्लील कंटेंट से भरी पूरी इस फिल्म को बैन कर दिया गया था. हालांकि, फिल्म रिलीज से पहले ही हिट हो गई थी.

 

साल 2003 में आई फिल्म Paanch भी उन विवादित फिल्मों में से एक है, जिसमें सेंसर कट लगा-लगाकर इतना थक गया कि उसने इसे बैन ही कर दिया. हालांकि ये फिल्म अपनी अश्लीलता पर नहीं बल्कि अत्यधिक हिंसा और नशाखोरी की वजह से बैन हुई थी. फिल्म को अनुराग कश्यप ने डायरेक्ट किया था.

2015 में एक फिल्म आई थी फिल्म जिसका नाम था The painted house. रिपोर्ट्स कहते हैं कि इस फिल्म को देखते ही सेंसर बोर्ड ने इसे तुरंत बैन कर दिया था. ये फिल्म एक बुज़ुर्ग शख्स और एक जवान लड़की के बीच संबंधों को लेकर बनाई गई थी.

First published: 15 November 2018, 15:00 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी