Home » बॉलीवुड » twinkle Khanna during Padman Promotion says when i saw periods stains on her uniform, due to shame i was moved from college canteen
 

जब ट्विंकल ने देखा अपने कपड़े पर पीरियड्स का दाग, शर्म के मारे कैंटीन से चली गई थीं बाहर

कैच ब्यूरो | Updated on: 28 January 2018, 15:47 IST

 बॉलीवुड के 'खिलाड़ी' अक्षय कुमार 'माहवारी' और 'सैनिटरी पैड्स' जैसे वर्जित विषय पर फिल्म 'पैडमैन' में नजर आने वाले हैं. 'टॉयलेट एक प्रेम कथा' जो घर में शौचालय के मुद्दे पर बनी थी उसके बाद अब उन्होंने अपनी आगामी फिल्म के लिए माहवारी जैसा मुद्दा चुना है. ये फिल्म 9 फरवरी को रिलीज होगी. ये फिल्म अरुणाचलम मुरुगनाथम की जिंदगी पर आधारित है.

 

बता दें कि ट्विंकल खन्ना इस फिल्म की को-प्रोड्यूसर हैं. फिल्म 'पैडमैन' में अक्षय कुमार के अलावा बॉलीवुड एक्ट्रेस राधिका आप्टे और सोनम कपूर भी लीड रोल में हैं. इस फिल्म के प्रोमशन के लिए ट्विंकल खन्ना और फिल्म 'पैडमैन' की टीम जोर शोर से लगी हुई. फिल्म पहले ही संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावत की वजह से पोस्टपोन हो गई है.

इसी फिल्म के प्रचार के लिए ट्विंकल खन्ना ने अपने जीवन से जुड़ी एक घटना बयां की, जिसे समाज में एक शर्म का विषय मान जाता है. ट्विंकल खन्ना ने एक दर्शक से बातचीत में के दौरान कहा, "मुझे याद है जब मैं बोर्डिग स्कूल में थी तो वहां मुझे इन सब के बारे में बताने के लिए मेरे साथ मां या मौसी नहीं थीं. एक दिन स्कूल कैंटीन में मुझे लगा कि मेरे यूनीफॉर्म में दाग लग गया है, मैं कपड़े बदलने के लिए तुरंत भागी. मैं खुशकिस्मत थी कि वह दाग सिर्फ मैंने देखा."

ये भी पढ़ें: 'पद्मावत' पर भड़की इस एक्ट्रेस ने भंसाली से क्यों कहा, 'वजाइना के बाहर भी एक जिंदगी है'

उन्होंने आगे कहा, "लेकिन पिछले साल अगस्त में दक्षिण भारत में एक शिक्षक ने एक 12 वर्षीय छात्रा को क्लासरूम से सिर्फ इसलिए बाहर निकाल दिया था, क्योंकि माहवारी के कारण उसके कपड़े और सीट पर दाग लग गए थे. इसके बाद वह घर गई और उसने बालकनी से कूदकर जान दे दी. तो इस सामान्य शारीरिक क्रिया को लेकर शर्मिंदगी का स्तर इस स्तर का है. मुझे उम्मीद है कि 'पैडमैन' के बाद लड़कियों में शर्म का स्तर कुछ हदतक कम होगा."

First published: 28 January 2018, 15:47 IST
 
अगली कहानी