Home » बिज़नेस » 1000 crore hawala racket busted, ED tightens screws on Chinese person
 

1000 करोड़ के हवाला रैकेट का भंडाफोड़, ED ने चीनी व्यक्ति पर कसा शिकंजा

कैच ब्यूरो | Updated on: 18 August 2020, 9:16 IST

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने कई शेल कंपनियों के जरिये लगभग 1,000 करोड़ रुपये का हवाला रैकेट चलाने के आरोप में चीनी नागरिक के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग का मामला दर्ज किया है. 42 वर्षीय चार्ली पेंग पर कई धाराओं में प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉड्रिंग एक्ट (पीएमएलए) के तहत मामला दर्ज किया गया है. पेंग को पहली बार दिल्ली पुलिस ने 2018 में बुक किया था. ईडी ने इस एफआईआर के आधार पर अपना मामला दर्ज किया है. पेंग और उनके कुछ सहयोगियों पर आयकर विभाग ने 12 अगस्त को छापेमारी की थी. गुड़गांव में पेंग सहित कम से कम दो दर्जन परिसरों की तलाशी ली गई थी.

सूत्रों के अनुसार पेंग पर कथित रूप से एक फर्जी भारतीय पासपोर्ट रखने का आरोप है. टैक्स अधिकारियों का कहना है कि उसने पिछले दो से तीन सालों में चीन से हवाला फंडों को लूटने के लिए शेल कंपनियों का जाल बनाया. उन्होंने कहा कि वह मेडिकल और इलेक्ट्रॉनिक सामान सहित कुछ अन्य वस्तुओं के आयात और निर्यात में शामिल था. सूत्रों के मुताबिक पेंग को दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने सितंबर 2018 में धोखाधड़ी और जालसाजी के आरोप में गिरफ्तार किया था.


मीडिया रिपोर्ट के अनुसार उसने मणिपुर की एक महिला से शादी करने के बाद एक नकली भारतीय पासपोर्ट प्राप्त किया और उसके परिसर में तलाशी के दौरान कुछ नकली आधार कार्ड भी बरामद किए गए. पेंग पर अन्य मामलों की भी जांच चल रही है. आरोप है कि पेंग दिल्ली में रह रहे कुछ तिब्बतियों को काम करवाने के बदले रिश्वत दे रहे थे.

केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) ने पिछले सप्ताह एक बयान में कहा था कि छापेमारी विश्वसनीय जानकारी के आधार की गई थी. बताया गया था की कुछ चीनी व्यक्ति और उनके भारतीय सहयोगी फर्जी इकाइयों के जरिए मनी लॉन्ड्रिंग और हवाला लेनदेन में लिप्त हैं. टैक्स विभाग ने कहा ''छापेमारी में यह पता चला कि चीनी नागरिकों के कहने पर 40 से अधिक बैंक खाते खोले गए थे, जिनमें 1,000 करोड़ रुपए डाले गए थे.

Gold Price Today : गोल्ड की कीमतों में गिरावट जारी, जानिए आज कहां पहुंचे आपके शहर में सोने के दाम

 

First published: 18 August 2020, 8:58 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी