Home » बिज़नेस » Aayog releases strategy for new India, aims to accelerate growth to 8%
 

NITI आयोग ने बनाई नई रणनीति, 2022 तक 4 ट्रिलियन डॉलर की होगी देश की अर्थव्यवस्था

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 December 2018, 15:56 IST

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने बुधवार को न्यू इंडिया के लिए NITI आयोग की रणनीति पेश की. वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि "हम भारतीय इतिहास में एक महत्वपूर्ण युग में खड़े हैं जहां हम खोए हुए अवसरों के लिए तैयार हो सकते हैं.'' हालांकि वित्त मंत्री जेटली ने स्वीकार किया कि 1991 से आर्थिक सुधारों ने देश को लाभान्वित किया.

नीति आयोग के रणनीति पत्र के मुताबिक सरकार का लक्ष्य टैक्स से जीडीपी अनुपात में 22 प्रतिशत बढ़ाना और आर्थिक विकास दर में 8 फीसदी की वृद्धि करना है. इस पत्र के मुताबिक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता वाली केंद्र सरकार का उद्देश्य भारतीय रेलवे के लिए एक स्वतंत्र नियामक स्थापित भी करना है.

गौरतलब है कि साल 2022 में भारत अपनी आजादी की 75 वीं वर्षगांठ मनाएगा और तब तक सरकार का लक्ष्य भारत को 4 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाना है. 'नई इंडिया 75' रणनीति' के तहत 41 क्षेत्रों की पहचान की गई है.

मंगलवार को नीति आयोग के सीईओ अमिताभ कांत ने कहा था कि विनिर्माण क्षेत्र में एक स्थायी आधार पर दो अंकों की वृद्धि दर हासिल करना एक व्यावहारिक चुनौती था, लेकिन देश को इसके लिए वैश्विक बाजारों के साथ एकीकृत करने की आवश्यकता थी.

ये भी पढ़ें : मोदी सरकार नई पेट्रोल-डीजल कारों पर लगाने जा रही 1200 रुपये का टैक्स, ये है कारण

इस रणनीति दस्तावेज में सबसे ज्यादा ध्यान नीतिगत माहौल में सुधार पर दिया गया है. जिसमें निजी निवेशक और अन्य हितधारक न्यू इंडिया 2022 के लिए निर्धारित लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए अपनी पूरी तरह से योगदान दे सकते हैं और भारत को 2030 तक 5 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था के लिए प्रेरित कर सकते हैं.

दस्तावेज के चालीस अध्यायों को चार वर्गों के तहत अलग किया गया है, किस्मे ड्राइवर्स, इंफ्रास्ट्रक्चर, समावेशन और शासन शामिल है. 

First published: 19 December 2018, 15:30 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी