Home » बिज़नेस » Adani Group may bid for Jet Airways
 

गौतम अडानी लगा सकते हैं जेट एयरवेज खरीदने के लिए बोली

कैच ब्यूरो | Updated on: 31 March 2019, 13:05 IST

अडानी समूह के जेट एयरवेज एयरलाइन के लिए बोली लगा सकता है. जेट एयरवेज अप्रैल में एक नया निवेशक प्राप्त करने के लिए बोली प्रक्रिया शुरू करेगी. अडानी समूह ने लॉजिस्टिक, ऊर्जा और कृषि के साथ फरवरी में हवाई अड्डों में प्रवेश किया था. समूह ने पीपीपी मोड के तहत क्षेत्रीय हवाई अड्डों के संचालन के लिए सभी छह बोलियां जीती थी. जेट एयरवेज बोर्ड ने 25 मार्च को आयोजित एक बोर्ड की बैठक में एक प्रबंधन बदलने को मंजूरी दे दी. जिसके बाद जेट एयरवेज के प्रमोटर नरेश गोयल और उनकी पत्नी अनीता गोयल तत्काल प्रभाव से बोर्ड से अलग हो गए.

अब बोली प्रस्तुत करने की अंतिम तिथि 30 अप्रैल है. फरवरी में अहमदाबाद, लखनऊ, जयपुर, तिरुवनंतपुरम, मैंगलोर और गुवाहाटी हवाई अड्डों पर हवाई अड्डों के लिए सभी छह वित्तीय बोलियां जीतकर अडानी ने हवाई अड्डे के व्यवसाय में प्रवेश किया. अडानी ने लगभग पांच साल पहले बजट कैरियर स्पाइसजेट में निवेश किया था, जब तत्कालीन प्रमोटर कलानिधि मारन एक खरीदार ढूंढ रहे थे क्योंकि मारन इस व्यवसाय से बाहर निकलना चाहते थे. अडानी की गुजरात से बाहर एक विमानन कंपनी है.

जेट एयरवेज वर्तमान में अपने 119 विमानों के बेड़े में से केवल 35 का संचालन कर रहा है. 27 मार्च को नागरिक उड्डयन मंत्रालय के साथ बैठक में सीईओ विनय दूबे सहित एयरलाइन के अधिकारियों ने सरकार को आश्वासन दिया था कि वह अप्रैल के अंत तक 75 विमानों का परिचालन करेगी और बेड़े के आकार को 35 के वर्तमान स्तर से नीचे नहीं जाने देगी.

मुंबई : DRI ने जब्त किया 100 किलो से ज्यादा सोना, ऐसे चल रहा था तस्करी रैकेट

First published: 31 March 2019, 13:05 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी