Home » बिज़नेस » After Nirav Modi Pnb scam and vijay mallya fraud, four companies make fraud with Union bank, cbi is investigating it
 

एक और बड़े बैंक घोटाले का पर्दाफाश, नीरव मोदी और माल्या के बाद इसने लगाया करोड़ों का चूना

कैच ब्यूरो | Updated on: 29 December 2018, 13:02 IST

नीरव मोदी, मेहुल चौकसी और विजय माल्या द्वारा किया गया फ्रॉड इतिहास का सबसे बड़ा बैंकिंग घोटाला था जिसने पुरे देश को झकझोर कर रख दिया था. नीरव मोदी ने 14,357 का घपला किया तो माल्या करीब 9000 करोड़ लेकर देश से फरार हो गया. सरकार ने कई सख्त कदम भी उठाए इसके वावजूद आए दिन बैंकिंग घोटाले सामने आते रहते हैं.

ताजा मामला सामने आया है यूनियन बैंक ऑफ इंडिया का, जहां करोड़ों रुपये के फर्जीवाड़े के एक नहीं, बल्कि चार मामले सामने आए हैं. इस बैंकिंग ग्राउंड मामले में अधिकारियों का कहना है कि इन सभी मामलों की जानकारी कौशांबी और गाजियाबाद की कॉर्पोरेट शाखाओं ने अलग-अलग कंपनियों के खिलाफ दी है. अधिकारियों ने बताया कि सीबीआई ने कर्ज चुकाने में कथित गड़बड़ी के जरिए बैंक को चूना लगाने के लिए एसएम इंटरप्राइजेज, जेपीआर इंपेक्स, जीनियस इंपेक्स, और जेआर फूड्स के निदेशकों एवं प्रमोटरों के खिलाफ मामला दर्ज किया है. अभी तक 74 करोड़ फ्रॉड के चार मामलों का खुलासा हुआ है.

केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) ने यूनियन बैंक ऑफ इंडिया में फर्जीवाड़े के एक नहीं बल्कि चार अलग-अलग मामले दर्ज किए हैं.देश के सरकारी बैंको में लगा आम जनता के पैसों की इस तरह लूट कतई जायज नहीं है. किसी भी देश का बैंकिंग सिस्टम उसकी अर्थव्यवस्था की नींव होता है.

पिछले कुछ सालों में कई बैंकिंग घोटाले सामने आए हैं, इनमें से सबसे चर्चित रहा है पीएनबी (PNB) बैंकिंग घोटाला, देश के लिए दुर्भाग्य की बात है कि जहां बड़ी राशि एनपीए (NPA) घोषित कर दी जाती है वहीं कई बड़े कारोबारी जनता के पैसे लेकर फरार हो जाते हैं. अब देखना ये होगा कि यूनियन बैंक ऑफ इंडिया में जिन चार कंपनियों के खिलाफ फर्जीवाड़ा दर्ज किया गया है, उसमें क्या करवाई की जाती है.

First published: 29 December 2018, 13:01 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी