Home » बिज़नेस » After scooti auto driver fined ₹32,500 after jumping red light signal
 

स्कूटी के बाद अब ऑटो वाले का पुलिस ने काटा 32,500 का चालान

कैच ब्यूरो | Updated on: 4 September 2019, 11:54 IST

गुरुग्राम ट्रैफिक पुलिस ने मंगलवार को एक ऑटो चालक का 32,500 और एक दोपहिया चालक का 23,000 ट्रैफिक टिकट (चालान) काट दिया. सिकंदरपुर क्षेत्र में एक ऑटो चालक के लिए लाल बत्ती जंप करना महंगा साबित हुआ. चालक पर 32,500 का जुर्माना लगाया गया है. पश्चिम बंगाल के मूल निवासी मोहम्मद मुस्तकिन, जो डीएलएफ फेज 3 में रहते हैं, को ट्रैफिक पुलिस द्वारा दोपहर को ट्रैफिक सिग्नल का उल्लंघन करने से रोका गया था.

ऑटो चालक दस्तावेज दिखाने में असफल रहा, जिसके बाद उसपर ये बड़ा जुर्माना लिया गया. दिहाड़ी मजदूर रहे मुस्तकिन ने कहा कि उन्होंने कुछ महीने पहले ऑटो चलाना शुरू किया था और जुर्माना भरने के लिए पैसे नहीं थे. इससे पहले पूर्वी दिल्ली के गीता कॉलोनी निवासी दिनेश मदन को यहां जिला अदालत के बाहर पुलिस ने बिना हेलमेट के स्कूटी चलाते हुए पकड़ा था.

 

इस दौरान पुलिस ने व्यक्ति से जब रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट, इंश्योरेंस, ड्राइविंग लाइसेंस और प्रदूषण प्रमाणपत्र जैसे आवश्यक दस्तावेज दिखाने के लिए कहा गया, वह नहीं दिखा पाया. गुरुग्राम पुलिस पीआरओ सुभाष बोकान ने कहा, "आरसी के लिए पुलिस ने 5,000 रुपये, ड्राइविंग लाइसेंस के लिए 5,000, प्रदूषण प्रमाणपत्र के लिए 10,000, थर्ड पार्टी इंश्योरेंस के लिए 2,000 और हेलमेट के लिए 1,000 का जुर्माना लगाया गया है."

मदन ने कहा कि वह एक विज्ञापन एजेंसी के साथ काम कर रहा था और समाचार पत्रों के लिए विज्ञापन एकत्र करने के लिए सिविल कोर्ट आया था. नए ट्रैफिक नियम आने के पहले दिन ही दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने 3900 चालान काटे. इनमें 557 खतरनाक ड्राइविंग, 42 ओवरस्पीडिंग, 207 रेड लाइट जंप के लिए काटे गए. जबकि नोएडा ट्रैफिक पुलिस ने 2 सितंबर को 1329 चालान काटे. 334 बाइकर्स का चालान बिना हेलमेट के कारण किया गया.

दुनिया के रहने लायक शहरों की सूची में मुंबई का खराब प्रदर्शन, इस पायदान पर है राजधानी दिल्ली

First published: 4 September 2019, 11:54 IST
 
अगली कहानी