Home » बिज़नेस » Air india offers voluntary retirement to 15,000 employees in ahead of sale in 2018.
 

Air India में होगी 15000 कर्मचारियों की छंटनी!

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 July 2017, 11:35 IST

देश की सबसे बड़ी सरकारी एयरलाइंस एयर इंडिया बड़ी छंटनी की तैयारी कर रही है. न्यूज़ एजेंसी रॉयटर के हवाले से आई खबर के मुताबिक एअर इंडिया अपने एक तिहाई स्टाफ की छंटनी करने की योजना पर काम कर रही है. इसके चलते कंपनी ने लगभग 15 हजार कर्मचारियों को वॉलंटरी रिटायरमेंट देने का फैसला किया है.

न्यूज़ एजेंसी रॉयटर का दावा है कि एयर इंडिया यह कदम कंपनी को 2018 में बेचने से पहले उठाएगी, ताकि इसे बेचते समय कंपनी की ऑपरेटिंग कास्ट को कम दिखाया जा सके. देश में किसी सरकारी कंपनी के लिहाज से वॉलंटरी रिटायरमेंट का यह सबसे बड़ा मसौदा होगा.

गौरतलब है कि मौजूदा समय में एअर इंडिया के लगभग 40,000 कर्मचारी हैं. कर्मचारियों की इतनी बड़ी संख्या को एयर इंडिया के डूबने के पीछे का एक अहम कारण माना जाता है. वहीं केन्द्र सरकार ने मीडिया रिपोर्ट का खंडन करते हुए कहा है कि उसने ऐसी कोई योजना नहीं बनाई है.

केन्द्र सरकार  की सफाई के मुताबिक एयर इंडिया और उसकी इकाइयों के देश में महज 20,000 कर्मचारी हैं, जबकि मीडिया रिपोर्ट ने दावा किया है कि कंपनी के 40,000 कर्मचारी हैं. सूत्रों का दावा है कि केन्द्र सरकार चाहती है कि एअर इंडिया को बेचने से पहले इस स्थिति में ले आया जाए, जिससे वह किसी भी निजी कंपनी को आकर्षित कर सके. 

दरअसल मोदी कैबिनेट ने अभी पिछले महीने ही कर्ज में डूबी एयर इंडिया के निजीकरण की मंजूरी दी थी. केन्द्र सरकार की योजना के मुताबिक कंपनी के निजीकरण की प्रक्रिया को 2018 में शुरू कर साल के अंत तक पूरा कर लिया जाएगा.

First published: 19 July 2017, 11:35 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी