Home » बिज़नेस » Amazon food biz to log off if new rules remain on menu
 

Amazon ने दी भारत में अपना ये बिजनेस बंद करने की चेतावनी, मोदी सरकार से की ये मांग

कैच ब्यूरो | Updated on: 15 January 2019, 11:20 IST

अमेरिकी ई- कॉमर्स कंपनी अमेज़न का कहना है कि अगले महीने सरकार के नए प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) के दिशा-निर्देश बदलते नहीं हैं तो अमेज़ॅन भारत में फ़ूड व्यापार Amazon.in पर बिकना बंद कर देंगे. यह सरकार के लिए बड़ा झटका लग सकता है क्योंकि अमेज़न एकमात्र विदेशी रिटेलर है जिसने भारत में बड़ा निवेश किया है.

इसके अलावा अमेज़न की फ्यूचर रिटेल में हिस्सेदारी के अधिग्रहण में देरी हो सकती है. अमेज़न ने यह कदम ईकॉमर्स एफडीआई पर सरकार के नए नियमों के बाद किया है. जो बाजार के सहयोगियों के उत्पादों को बेचने से रोकता है. यह नियम 1 फरवरी से प्रभावी हो जायेंगे.

 

अमेज़न से जुड़े एक व्यक्ति ने कहा कि "Amazon Retail India Pvt Ltd (ARIPL), जो Amazon.in पर खाद्य पदार्थों का विक्रेता है, नए बाज़ार नियमों के अनुपालन के लिए बोली के बाद फरवरी 1 की बिक्री बंद कर देगा,"

अमेज़ॅन के एक प्रवक्ता ने कहा कि कंपनी अभी भी नए मानदंडों का मूल्यांकन कर रही है. हम भारत में एक तरह से निवेश करने के लिए प्रतिबद्ध हैं, जो किसान और कृषि समुदाय के प्रति सरकार के दृष्टिकोण के साथ काम कर सकता है लेकिन वर्तमान में, हम अभी भी प्रेस नोट 2 दिशानिर्देशों का मूल्यांकन कर रहे हैं."

सरकार की ताजा कठोर नीतियों के बावजूद भारत पर अमेजन का दबदबा कायम है, एशिया-पैसिफिक में कंपनी की वेबसाइट पर मौजूद आंकड़ों के अनुसार, भारत में कंपनी की सबसे ज्यादा जॉब ओपनिंग है. चीन की तुलना में यहां ओपनिंग लगभग तीन गुना अधिक है.

भारत में कंपनी अपने ई-कॉमर्स और व्यवसाय (AWS) के अलावा भुगतान, सामग्री (प्राइम वीडियो), आवाज-सहायक (एलेक्सा), खाद्य खुदरा और ग्राहक सहायता जैसे क्षेत्रों में काफी विस्तार कर रही है. 2018 के अंत में अमेज़न ने भारत में 60,000 से अधिक लोगों को सीधे रोजगार दिया.

ये भी पढ़ें : भारत में सबसे ज्यादा नौकरियां ला रहा है Amazon, चीन को भी छोड़ा पीछे

First published: 15 January 2019, 11:09 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी