Home » बिज़नेस » ambassador car comeback in india by psa group psa ready to start its production next year ambassador car, ambassador car in india
 

भारत में जल्द लौटेगी आपकी पसंदीदा कार, खरीदने का सपना होगा पूरा

कैच ब्यूरो | Updated on: 4 January 2018, 16:57 IST

एंबेसडर कार को पंसद करने वाले लोगों की भारत में कमी नहीं है. नेता, मंत्रियों की तो ये चहेती कार रही है लेकिन कई साल पहले इन कारों की मैन्युफैक्चरिंग बंद हो गई थी. इस कारण से लोगों की एंबेसडर कार खरीदने की चाहत अधूरी रह गई थी. लेकिन जो खबर अब सामने आई है उसके मुताबिक लोगों की एंबेसडर कार खरीदने की ख्वाहिश पूरी हो जाएगी.

दरअसल,अब फ्रेंच ऑटोमेकर पीएसए ग्रुप भारत में जल्द अपना ऑपरेशंस शुरू करना वाली है. पुजॉ, सिथॉएन और डीएस जैसे बड़े ब्रैंड्स का मालिकाना हक भी अब पीएसए ग्रुप के ही पास है. ऐसे में पीएसए ने भारत में एंबेसडर ब्रैंड को फरवरी 2017 में 80 करोड़ में खरीद लिया था. इसके लिए पीएसए ने सी.के. बिड़ला ग्रुप के साथ फिफ्टी-फिफ्टी की साझेदारी कर ली है. इसके बाद पिछले साल नवंबर में पीएसए और सी.के.बिड़ला ग्रुप ने अपने पावरट्रेन प्लांट के निर्माण की शुरुआत के अवसर पर तमिलनाडु के होसुर में एक बड़ा ईवेंट रखा था.

वहीं, अगर फाइनैंशल एक्सप्रेस की रिपोर्ट की मानें तो, इस जॉइंट वेंचर ने गाड़ी और पावरट्रेन मैन्युफैक्चरिंग प्लांट्स में 700 करोड़ रुपये निवेश करने की घोषणा की थी. इस पावरट्रेन प्लांट की शुरुआती मैन्युफैक्चरिंग कपैसिटी करीब 2 लाख यूनिट प्रति साल होगी. हालांकि होसुर स्थित इस प्लांट को अगले साल 2019 तक चालू होने की संभावना है.

इसके अलावा खबर यह भी है कि दो सालों के अंदर कंपनी भारत में अपना ऑपरेशंस शुरू कर देगी और गाड़ियां साल 2020 में सड़कों पर आ जाएंगी. कंपनी का पहला प्रॉडक्ट हैचबैक होगा. इसके बाद कंपनी क्रासओवर स्टाइल पर भी फोकस करेगी.

 

First published: 4 January 2018, 16:57 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी