Home » बिज़नेस » Anand Mahindra Finally Located the Shoe Doctor offer to help
 

आनंद महिंद्रा ने ढूंढ निकाला जख्मी जूतों का इलाज करने वाला डॉक्टर, कही बड़ी बात

कैच ब्यूरो | Updated on: 1 May 2018, 10:24 IST

महिंद्रा ग्रुप के चेयरमैन आनंद महिंद्रा ने हाल ही में अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर एक होनहार व्यक्ति की तस्वीर शेयर की. साथ ही इस व्यक्ति पर भरोसा जताया कि वह देश की सबसे प्रतिष्ठित मैनेजमेंट इंस्टीट्यूट इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट (IIM) में छात्रों को पढ़ा सकता है.

दरअसल, महिंद्रा ग्रुप के चेयरमैन आनंद महिंद्रा ने जूतों की मरम्मत करने वाले एक शख्स की तस्वीर अपने ट्विटर अकाउंट पर शेयर की. इस शख्स की तस्वीर शेयर करने की वजह भी बहुत अहम है. क्योंकि जूता ठीक करने वाले इस शख्स ने एक पोस्टर लगाया है. जिसपर लिखा है 'जख्मी जूतों का हस्पताल'. इस शख्स का नाम है डॉ. नरसीराम.

नरसीराम ने इस पोस्टर को उस जगह पर लगाया है जहां वे जूते ठीक करने का काम करते हैं. यही नहीं नरसीराम ने इस पोस्टर में अपने 'हस्पताल' की पूरी जानकारी दी है. इस पोस्टर पर आगे लिखा है. ओपीडी प्रातः 9 बजे से दोपहर 1 बजे तक रहेगी. वहीं 1 बजे से 2 बजे तक लंच का टाइम बताया गया है. आगे लिखा है सायं 2 बजे से 6 बजे तक हस्पताल खुला रहेगा. साथ ही सभी किस्म के जूतों का इलाज जर्मन तकनीक से करने की बात कही गई है. 

आनंद महिंद्रा को इस शख्स की मार्केटिंग रणनीति बहुत पसंद आई. महिंद्रा ने तस्वीर को शेयर करने के बाद लोगों से पूछा कि इस आदमी के बारे में किसी के पास कोई सूचना हो तो बताएं. महिंद्रा ने 17 अप्रैल को किए अपने ट्वीट में पूछा था कि यदि कोई उन्‍हें खोज सकता है और वह अभी भी यह काम कर रहा है तो वह उसके स्‍टार्टअप में छोटा निवेश करना चाहते हैं.

आनंद महिंद्रा ने एक बार फिर इस खबर को शेयर किया है. इसके साथ ही ये जानकारी दी कि उन्होंने उस आदमी को खोज निकाला है. अपने ट्वीट में उन्होंने बताया कि कैसे उनकी टीम ने हरियाणा में उस व्‍यक्ति से मुलाकात की. उन्‍होंने बताया कि हमारी टीम ने हरियाणा में उनसे मुलाकात की और उनसे पूछा कि हम कैसे उनकी मदद कर सकते हैं.

उन्होंने लिखा कि वह एक सरल और विनम्र व्‍यक्ति हैं. पैसा मांगने के बजाये उन्‍होंने कहा कि उन्‍हें एक अच्‍छे कार्यस्‍थल की जरूरत है. महिंद्रा ने अपने ट्वीट में आगे लिखा कि मैंने मुंबई में अपनी डिजाइन स्‍टूडियो टीम से एक ऐसे कियोस्‍क को डिजाइन करने के लिए कहा है.

उन्होंने ट्वीट को पूरा करते हुए लिखा कि टीम के सदस्‍यों ने नरसीराम जी से मुलाकात की और उन्‍हें कियोस्‍क के लिए कुछ आइडिया बताए. हम आप सबसे इन आइडिया पर इनपुट चाहते हैं और आप इन तीन में से किसे पसंद करेंगे. हम कुछ ऐसा डिजाइन करना चाहते हैं जो रोडसाइड वेंडर के लिए काम करने की क्षमता में वृद्धि करे और उन्‍हें आराम भी दे.

आनंद महिंद्रा के इन ट्वीट्स को खूब पसंद किया जा रहा है. साथ ही यूजर्स अपनी-अपनी राय दे रहे हैं. कुछ यूजर्स फोटो शेयर करके इसी तरह के दूसरे लोगों के बारे में बात कर रहे हैं.

ये भी पढ़ें- रांची अस्पताल पहुंचने से पहले ट्रेन में खराब हुई लालू की तबियत, इमरजेंसी में बुलाया गया डॉक्टर

First published: 1 May 2018, 10:24 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी