Home » बिज़नेस » Anil Ambani's Reliance Health Insurance Company will be able to sell insurance policy
 

इंश्योरेंस पॉलिसी नहीं बेच पायेगी अनिल अंबानी की रिलायंस हेल्थ इंश्योरेंस कंपनी

कैच ब्यूरो | Updated on: 7 November 2019, 15:59 IST

इंश्योरेंस रेगुलेटरी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी ऑफ इंडिया (इरडाई) ने बुधवार को रिलायंस हेल्थ इंश्योरेंस कंपनी (आरएचआईसी) को नई पॉलिसी बेचने से रोक दिय है. साथ ही पॉलिसीधारकों की देनदारियों को वित्तीय संपत्ति के साथ रिलायंस जनरल इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड (आरजीआईसीएल) को 15 नवंबर 2019 तक हस्तांतरित करने का आदेश दिया है.

कंपनी, जिसने पिछले साल अक्टूबर में अपने परिचालन की शुरुआत की थी, जून 2019 से आवश्यक सॉल्वेंसी मार्जिन को बनाए रखने में सक्षम नहीं है. अपने आदेश में इरडा ने कहा है कि 15 नवंबर से रिलायंस हेल्थ इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड का संचालन रिलायंस जनरल इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड करेगी. स्वास्थ्य बीमाकर्ताओं को 150% सॉल्वेंसी मार्जिन बनाए रखने की आवश्यकता होती है.

 

जून और अगस्त के बीच, आरएचआईसी की सॉल्वेंसी मार्जिन 106% से 77% हो गया. सितंबर में सॉल्वेंसी मार्जिन 63% तक कम हो जाने के बाद नियामक ने बीमाकर्ता से पूंजीगत व्यय के लिए या आरएचआईसी के किसी भी संबंधित पक्ष की ओर कोई भुगतान नहीं करने के लिए कहा था. चूंकि कंपनी द्वारा सॉल्वेंसी मार्जिन को बहाल करने के लिए कोई ठोस उपाय नहीं किए गए थे, नियामक ने बीमाकर्ता के नए व्यवसाय पर रोक लगा दी है.

BSNL के 15,000 से अधिक कर्मचारियों ने किया वीआरएस पैकेज के लिए आवेदन

 

 

First published: 7 November 2019, 15:52 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी