Home » बिज़नेस » Arun jaitley may exempt in income tax limit get increase in interim budget 2019
 

आम लोगों के लिए साल की सबसे बड़ी खुशखबरी, बढ़ेगी इनकम टैक्स छूट की सीमा और मिलेगा ये लाभ

कैच ब्यूरो | Updated on: 25 January 2019, 15:19 IST

वित्त मंत्री अरुण जेटली आयकर छूट की सीमा बढ़ाकर दोगुनी कर सकते हैं, जिससे माध्ययम वर्ग को बड़ी राहत मिलेगी. वर्त्तमान में वेतनभोगी कर्मचारियों के लिए 2.5 लाख रुपये से तक की आमदनी पर इनकम टैक्स में छूट का प्रावधान है जिसे बढ़कर 5 लाख रुपये किये जाने की संभावना है. मेडिकल खर्चों और परिवहन भत्ते को भी फिर से लागू किया जाएगा. नोटबंदी के कारण मध्य वर्ग को आर्थिक बेहाली का सामना पड़ा था लेकिन अगर टैक्स स्लैब में छूट मिलती है तो ये बड़ी राहत की बात होगी.

मध्य वर्ग को लुभाने के लिए बड़ा दाव

गौरतलब है कि यह पूर्ण बजट नहीं होगा और अंतरिम बजट में बहुत अधिक मांगों को पूरा नहीं किया जा सकता है, लेकिन मोदी सरकार आम चुनावों को देखते हुए मध्य वर्ग को संतुष्ट कर साधने की कोशिश करेगी जिससे वोटों का ध्रुवीकरण एनडीए के पक्ष में हो. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार टैक्स स्लैब को सुव्यवस्थित करने की योजना बनाई गई है, जो किसी भी स्थिति में डायरेक्ट टैक्स कोड के मुताबिक होंगे.

वर्तमान टैक्स स्लैब

मौजूदा इनकम टैक्स नियमों के अनुसार 2.5 लाख रूपये की आमदनी को निजी आयकर से छूट प्राप्त है, जबकि 2.5 लाख से 5 लाख रूपये के बीच की वार्षिक आय पर 5 प्रतिशत टैक्स लगता है. 5-10 लाख रूपये की सालाना आय पर 20 प्रतिशत और 10 लाख रूपये से ज्यादा की वार्षिक आमदनी पर 30% कर लगता है. इनकम टैक्स कानून के अनुसार 80 साल के अधिक की आयु के नागरिकों को 5 लाख रुपए सालाना की आय पर कर छूट प्राप्त है.

First published: 15 January 2019, 14:09 IST
 
अगली कहानी