Home » बिज़नेस » Atal Pension Yojana Invest 7 rupee everyday and get five thousand monthely pension
 

मोदी सरकार की इस योजना में रोजाना करें सिर्फ 7 रुपये की बचत, मिलेगी हर महीने पांच हजार पेंशन

कैच ब्यूरो | Updated on: 6 November 2019, 15:11 IST

कम बचत में ज्यादा से ज्यादा फायदा पाने के लिए आप मोदी सरकार की अटल पेंशन योजना में निवेश कर सकते हैं. अबतक इस योजना का फायदा देशभर के एक करोड़ 90 लाख से ज्यादा लोग उठा चुके हैं. बता दें कि केंद्र सरकार ने असंगठित क्षेत्र के कामगारों को सामाजिक सुरक्षा देने के उद्देश्य से इस योजना की शुरूआत की थी. इस योजना का फायदा कोई भी उठा सकता है. मोदी सरकार की इस महत्वाकांक्षी योजना के तहत आपको रोजाना सिर्फ 7 रुपये की बचत करनी होगी और जब आप 60 साल के हो जाएंगे तो आपको हर महीने 5,000 रुपये की पेंशन मिलेगी.

बता दें कि अटल पेंशन योजना के तहर इस साल 31 अक्टूबर तक 36 लाख से ज्यादा खाते खोले गए हैं. जो 33 फीसदी की बढ़ोतरी को दर्शाता है. पिछले साल इसी अवधि के दौरान इसमें 26 प्रतिशत की वृद्धि हुई थी. वहीं 36 लाख अटल पेंशन योजना के खातों में 27.5 लाख खाते सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों, 5.5 लाख खाते क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक और करीब 3 लाख खाते निजी बैंक और भुगतान बैंक में खोले गए हैं.

वहीं इसमें सार्वजनिक बैंक में, भारतीय स्टेट बैंक का योगदान सबसे अधिक रहा. जहां 11.5 लाख अटल पेंशन खाते खोले गए हैं. इसके बाद कैनरा बैंक और बैंक ऑफ इंडिया का नंबर है. क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों में, बड़ौदा उत्तर प्रदेश ग्रामीण बैंक, दक्षिण बिहार ग्रामीण बैंक और आंध्र प्रदेश ग्रामीण विकास बैंक ने सबसे ज्यादा अटल पेंशन खाते खोले हैं.

वहीं भुगतान बैंक श्रेणी में, एयरटेल पेमेंट बैंक ने चालू वित्त वर्ष में अब तक करीब 1.8 लाख पेंशन खाते खोले हैं. सरकार के बयान में कहा गया है कि PFRDA ने मार्च 2020 तक 2.25 करोड़ लोगों को इस पेंशन योजना से जोड़ने का लक्ष्य है. बता दें कि इस योजना से जुड़ने की उम्र 18 साल से लेकर 40 साल तक है. वहीं इस योजना का लाभ इनकम टैक्स स्लैब से बाहर के लोग ही उठा सकते हैं.

बता दें कि अटल पेंशन योजना में पेंशन की रकम आपके निवेश और आपकी उम्र पर निर्भर करती है. अटल पेंशन योजना के तहत कम से कम 1,000 रुपये और अधिकतम 5,000 रुपये मासिक पेंशन मिल सकता है. इस योजना का लाभ निवेशक की जिंदा रहने के दौरान ही नहीं मिलेगा, बल्कि 60 साल की उम्र पूरी होने से पहले अगर उसकी मौत हो जाती है तो उसकी पत्नी को इसका लाभ मिलेगा. वहीं पत्नी की मौत होने पर उसके  नॉमिनी को एकमुश्त रकम मिलेगी.

ये भी पढ़ें-

गोवा के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने जनता के लिए बंद किया राजभवन

नेहरू मेमोरियल से कांग्रेस नेताओं की छुट्टी, रजत शर्मा और प्रसून जोशी को मिली जगह

चक्रवाती तूफान 'महा' का नहीं खत्म हुआ असर, इन राज्यों में अभी भी मचा सकता है तबाही

First published: 6 November 2019, 15:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी