Home » बिज़नेस » Auto crisis: 286 dealerships closed nationwide in 18 months
 

ऑटो संकट : 18 महीनों में देशभर में बंद हुई 286 डीलरशिप

कैच ब्यूरो | Updated on: 14 August 2019, 13:24 IST

ऑटो सेक्टर में मंदी के पिछले 18 महीनों में देशभर में 286 डीलरशिप आउटलेट इस दौरान बंद हो गए हैं. द इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार फेडरेशन ऑफ ऑटोमोबाइल डीलर्स एसोसिएशन ने अपने आंकड़ों में बताया कि सिर्फ पिछली तिमाही में पंद्रह हजार नौकरियां चली गई. आंकड़ों की माने तो यात्री वाहनों की बिक्री पिछले साल के इसी महीने जुलाई में 30.9% गिरी, जबकि कार की बिक्री में 35.95% की गिरावट आई है. बाजार में कुल मंदी 19% रही.

ऑटो इंडस्ट्री बॉडी SAIM (सोसाइटी ऑफ इंडियन ऑटोमोबाइल मैन्युफैक्चरर्स) के अनुसार लगभग 15,000 नौकरियां, जिनमें ज्यादातर अस्थायी और कैज़ुअल वर्कर्स हैं, ने पिछले दो से तीन महीनों में ऑटोमोबाइल मैन्युफैक्चरिंग कंपनियों में नौकरी खो दी है. पिछले नौ महीने के रुझान के बाद जुलाई की बिक्री में पिछले साल की इसी महीने की तुलना में 18.71 प्रतिशत की गिरावट आई है.

जानकारों का मानना है कि नॉन -बैंकिंग वित्त कंपनियों के संकट के साथ उपभोक्ता विश्वास में गिरावट यात्री कार की बिक्री में गिरावट का कारण हो सकती है. अप्रैल 2020 तक भारत स्टेज- VI उत्सर्जन मानदंडों को पूरा करने के लिए कार निर्माताओं ने भी अपनी कीमतों में वृद्धि की है. यह भी वाहनों के न बिकने का बड़ा कारण माना जा रहा है. इसी तरह दोपहिया वाहन निर्माता भी 2023 तक बैटरी से चलने वाले वाहनों की ओर देख रहे है. जानकारों का कहना है "अगले साल जब बीएस-VI आएगा, तो इससे वाहनों की लागत बढ़ेगी, विशेषकर डीजल की.

Zomato फाउंडर बोले- हड़ताल का धार्मिक आस्था से कोई लेना देना नहीं था, बताई असल कहानी

First published: 14 August 2019, 13:24 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी