Home » बिज़नेस » Bangladesh gross domestic product : Bangladesh could top India's per capita income by 2020
 

पर-कैपिटा इनकम के मामले में बांग्लादेश 2020 तक भारत से आगे निकल जायेगा ?

कैच ब्यूरो | Updated on: 28 May 2018, 13:48 IST

लगभग चार दशकों तक अपने सबसे बड़े पड़ोसी का पीछा करने के बाद बांग्लादेश आर्थिक और सामाजिक विकास के मामले में भारत से आगे निकलने के संकेत दे रहा है. साल 2016 के अंत में बांग्लादेश का सकल घरेलू उत्पाद (मौजूदा कीमतों पर) डॉलर के मामले में 12.9 प्रतिशत (सीएजीआर) बढ़ा है जबकि इसी दौरान भारत में यह 5.6 रहा.

इस तरह बांग्लादेश की यह वृद्धि भारत से दोगुनी ज्यादा रही. इसी अवधि में पाकिस्तान की निवेश और निर्यात में वृद्धि 8.6 प्रतिशत रही. ताजा आंकड़ों की मानें तो इस दौरान बांग्लादेश की प्रति व्यक्ति आय (डॉलर के मामले में) भारत की आय वृद्धि की गति से तीन गुना बढ़ी. इन तीन सालों में भारत की प्रति व्यक्ति आय 14 प्रतिशत की रफ़्तार के मुकाबले में बांग्लादेश की प्रतिव्यक्ति आय 2016 में 40 फीसदी की रफ़्तार से बढ़ी.

जबकि इस दौरान पाकिस्तान की प्रतिव्यक्ति आय 21 फीसदी की रफ़्तार से बढ़ी. रिपोर्ट के अनुसार बांग्लादेश की प्रति व्यक्ति आय अगर इसी रफ़्तार से बढ़ी तो साल 2020 यह भारत के बराबर आ सकती है. वर्तमान में एक विशिष्ट भारतीय के पास अपने पूर्वी एशिया के पड़ोसी की तुलना में 25 प्रतिशत अधिक आय है. साल 2011 में भारतीयों ने 87 प्रतिशत अधिक आय अर्जित की.

दक्षिण एशिया में भारत 40 साल तक 1970 से 2010 के बीच सबसे अच्छी प्रदर्शन करने वाली अर्थव्यवस्था रही. वर्तमान में बांग्लादेश शिशु मृत्यु दर और जीवन प्रत्याशा के मामले भारत से आगे जाने के संकेत दे रहा है. बांग्लादेश के एक नवजात शिशु को अपने भारतीय या पाकिस्तानी समकक्ष की तुलना में पांचवां जन्मदिन देखने की संभावना है. यह भारत (68.6 वर्ष) और पाकिस्तान (66.5 वर्ष) की तुलना में बांग्लादेश में (72.5 वर्ष) तक रहने की संभावना है.

विकास के मामले में बांग्लादेश के आगे बढ़ने की ललक का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि उसने अपने देश में विदेशी निवेशक कंपनियों को इंसेंटिव के अच्छे ऑफर से जोड़ा है. वर्तमान में भारत से टीवीएस और हीरो जैसी भारतीय कंपनियां बांग्लादेश में अपने प्लांट स्थापित कर रही हैं. ये कंपनियां यह से बड़ी संख्या में एक्सपोर्ट करेगी और इससे बांग्लादेश की अर्थव्यवस्था में बड़ा बूस्ट आएगा.

ये भी पढ़ें : तेल का खेल: पेट्रोल-डीजल की कीमत इसलिए कम नहीं करना चाहती मोदी सरकार

First published: 28 May 2018, 13:44 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी