Home » बिज़नेस » Banks lost Rs 41,167 crore to fraud in 2017-18: RBI
 

Flashback 2018 : एक साल में बैंकों को लगा कुल 41,167 करोड़ का चूना, इतने बढे बैंक धोखाधड़ी के मामले

कैच ब्यूरो | Updated on: 31 December 2018, 10:20 IST

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) द्वारा जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार 2017-18 में धोखाधड़ी करने वालों ने बैंकों को 41,167.7 करोड़ रुपये का चूना लगाया. यह पिछले साल 23,933 करोड़ रुपये से 72 प्रतिशत अधिक है. 2017-18 में बैंक धोखाधड़ी के 5,917 मामले थे, जो पिछले वर्ष के 5,076 मामलों के मुकाबले आधी हैं. आंकड़े बताते हैं धोखाधड़ी के में बढ़ोतरी हुई है जो 2013-14 में 10,170 करोड़ रुपये से चार गुना हैं.

बैंकों ने वर्ष के दौरान अधिक साइबर धोखाधड़ी के मामले दर्ज किये 2017-18 में 2,059 मामलों में 109.6 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ, जबकि पिछले वर्ष 1,372 मामलों के साथ 42.3 करोड़ रुपये था.

 

रिपोर्ट के अनुसार इन धोखाधड़ी के मामलों में 50 करोड़ रुपये से बड़ी धोखाधड़ी का हिस्सा 80 प्रतिशत है. गौरतलब है कि पीएसयू बैंकों में एक लाख रुपये से अधिक की धोखाधड़ी के 93 प्रतिशत मामले दर्ज हुए जबकि निजी बैंकों में इसकी छह प्रतिशत हिस्सेदारी थी. पीएनबी धोखाधड़ी के बाद बैड लोन मार्च 2018 तक 10,39,700 करोड़ रुपये था.

केंद्रीय बैंक ने माना है कि धोखाधड़ी परिचालन जोखिम के प्रबंधन में सबसे गंभीर चिंता का विषय बन गई है, जिसका 90 प्रतिशत हिस्सा बैंकों के क्रेडिट पोर्टफोलियो में है.

ये भी पढ़ें : पेट्रोल-डीजल के दामों में साल के आखिरी दिन भी हुई भारी कटौती, इस साल के सबसे सस्ते स्तर पर पेट्रोल

First published: 31 December 2018, 10:10 IST
 
अगली कहानी