Home » बिज़नेस » Banks strike on the occasion of Holi, employees gave this warning to the government
 

मार्च में होली के मौके पर एक हफ्ते बंद रहेंगे बैंक, कर्मचारियों ने सरकार को दी ये चेतावनी

कैच ब्यूरो | Updated on: 13 February 2020, 13:23 IST

भारत के सरकारी बैंक अगले महीने मार्च में लगभग एक हफ्ते बंद रहेंगे. 10 से 15 मार्च के बीच बैंक कर्मचारियों ने हड़ताल पर जाने का फैसला किया है. कर्मचारी लंबे समय से सैलरी बढ़ाने की मांग कर रहे हैं. बैंक कर्चारियों की ये हड़ताल होली के मौके पर हो रही है, जिससे लोगों पर असर पद सकता है. बैंक कर्मचारियों का कहना है कि उनकी सैलरी अन्य केंद्रीय कर्मचारियों के मुकाबले आधी है.

बैंक यूनियनों ने वेतन पर्ची घटकों पर 20% की सैलरी  वृद्धि की मांग की है. वहीं इंडियन बैंक एसोसिएशन (IBA) का कहना है कि वह 19 फीसदी बढ़ोतरी पर सहमत हैं. साल 2020 में यह बैंक की दूसरी हड़ताल है. जनवरी की शुरुआत में हुई दो दिन की बैंक हड़ताल से निकासी, चेक क्लीयरेंस और एटीएम सेवाओं पर असर पड़ा था. इसके बाद फरवरी में बजट के मौके पर भी बैंक कर्मचारी हड़ताल पर चले गए थे.

बैंक कर्मचारियों का कहना है कि अगर मार्च की उनकी हड़ताल के बाद मांग नहीं मानी जाती है तो वह फिर से 1 अप्रैल से हड़ताल पर जा सकते हैं. गौरतलब है कि बैंक कर्मचारियों की सैलरी में हर पांच साल में संशोधन किया जाता है. आखिरी बार यह साल 2017 में होना था लेकिन यह अभी तक नहीं किया गया है. इसके बाद से बैंक कर्मचारी लगातार गुस्से में हैं. बैंक कर्मचारियों की आखिरी सैलरी बढ़ोतरी 2012 से 2017 के बीच होना था.

LPG Gas Cylinder Price : आज से बढ़ गई हैं LPG सिलेंडर की कीमतें, जानिए अब क्या हैं आपके शहर की कीमतें

बैंक कर्मचारी बेसिक पे में स्पेशल भत्ते का विलय भी चाहते हैं. बैंक यूनियनों की मांग है कि एनपीएस को खत्म किया जाए. पेंशन का अपडेशन किया जाए. इसके अलावा पेंशन में सुधार, स्टाफ वेलफेयर फंड का परिचालन लाभ के आधार पर बांटना, रिटायर होने पर मिलने वाले लाभ को आयकर से बाहर करना, शाखाओं में कार्यों के घंटे और लंच समय का सही से बंटवारा उनकी मांगों में शामिल है.

First published: 13 February 2020, 13:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी