Home » बिज़नेस » Become Rich with proper investment options to create wealth with less than Rs 500
 

500 रुपये के निवेश वाली वो तीन स्कीम, जिनसे आप बन सकते हैं अमीर

दीपक कुमार | Updated on: 22 July 2018, 15:56 IST

आज के आर्थिक युग में पैसे कमाना जितना जरुरी है उससे कहीं अधिक महत्वपूर्ण पैसे को बचाना और उसे सही जगह निवेश करना है. अमीर और सफल वही है जिसके पास बचत करने और उस बचत से अच्छी कमाई करने का हुनर है. जब कोई व्यक्ति पैसे की सेविंग करने और उसे इन्वेस्ट करने के लिए करने के लिए प्रतिबद्ध होता है, तो फंड की मात्रा ज्यादा महत्व नहीं रखती है.

ऐसा नहीं है कि हम सिर्फ बड़ी मात्रा में या लाखों रुपये इन्वेस्ट करके भविष्य में अच्छे रिटर्निंग की उम्मीद कर सकते हैं बल्कि मात्र 500 रुपये से बचत और निवेश की शुरुआत की जा सकती है जिससे भविष्य में लाखों की राशि उपलब्ध होगी.

ये भी पढ़ें-धीरूभाई अंबानी ने 500 रुपये से शुरु किया कारोबार और ठान ली 'कर लो दुनिया मुट्ठी में'

एक आम भारतीय अपनी जिंदगी के प्राथमिक और बुनियादी सुविधाओं को पूरा करने के बाद जिस राशि को बचा पता है उसे किसी ऐसे जगह निवेश करना चाहता है कि उसका पैसा डूबे नहीं और वित्तीय रूप से भविष्य सुरक्षित रहे. अपने आमदनी के अनुसार सही योजना के साथ इन्वेस्ट करने पर जोखिम कम रहता है जिससे पैसा और भविष्य दोनों सुरक्षित रहेगा. यहां हम निवेश के कुछ विकल्प पर चर्चा करेंगे जिसका लाभ आप उठा सकते हैं.

नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट (NSC)

एनएससी एक निश्चित आय निवेश योजना है, जो डाकघरों में उपलब्ध है. यह भारत सरकार की एक ऐसी योजना है जिसमें निश्चित लाभ के साथ सुरक्षित रिटर्निंग की सुविधा है. 100 रुपये से 10,000 रुपये के मूल्यों में यह स्कीम उपलब्ध है. इस योजना में 5 साल और 10 साल की समय अवधि  के विकल्प मौजूद हैं. इस पर निश्चित ब्याज दर सालाना एकत्रित की जाती है, वर्तमान में व्याज दर 7.6% है. एक साधारण आमदनी वाला व्यक्ति इसमें अपने बचत के अनुसार निवेश कर सकता है और कोई जोखिम भी नहीं.

नेशनल पेंशन सिस्टम (NPS)

नेशनल पेंशन सिस्टम सभी भारतीय नागरिकों के लिए एक लांग-टर्म रिटायरमेंट स्कीम है. यह पेंशन फंड रेगुलेटरी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी (PFRDA)  द्वारा संचालित जाती है. एनपीएस मार्केट-लिंक्ड प्रोडक्ट है, मतलब मार्केट में फंड के प्रदर्शन के आधार पर रिटर्न देता है. एनपीएस की राशि को शेयर, बॉन्ड, इक्विटी, फिक्स्ड डिपॉजिट और सरकारी फंड जैसे विभिन्न फाइनेंसियल प्रोडक्टस में मिश्रित रूप से निवेश किया जाता है जिससे निवेश किये गए पैसे पर जोखिम नहीं के बराबर होता है.

एक निवेशक को यह चुनने का अधिकार है कि एनपीएस के माध्यम से इक्विटी में कितनी धनराशि निवेश की जा सकती है. वर्तमान में 1, 3, और 5 साल की निवेश अवधि पर रिटर्निंग  क्रमशः 9 .5 प्रतिशत, 8.5 प्रतिशत और 11 प्रतिशत है. इसके अलावा इनकम टैक्स में भी एनपीएस को अनुमत 2 लाख रुपये तक छूट का लाभ  होगा.

डाकघर आवर्ती जमा (Recurring Deposit -RD)

पोस्ट ऑफिस आरडी छोटे और जोखिम से बचने वाले निवेशकों के लिए एक आकर्षक इन्वेस्टमेंट ऑप्शन है. इस योजना में कुछ वर्षों के निवेश के बाद  एकमुश्त अच्छी राशि निकाली जा सकती है. डाकघर की इस योजना में एक साल, दो साल, तीन साल और पांच साल की परिपक्वता (maturities) अवधि है. लेकिन केवल 5 वर्ष के लिए जमा करने पर ही इनकम टैक्स में छूट का लाभ मिलेगा. इसे जमा योजना में कम से कम 10 रुपये प्रति माह या 5 रुपये के मल्टीप्ल (5, 10, 15, 20, 25) में से किसी भी राशि के साथ खोला जा सकता है जबकि जमा करने की मैक्सिमम लिमिट निर्धारित नहीं है.

इन सरकारी बचत योजनाओं में निवेश कर आप छोटी राशि से भी एकमुश्त लाखों रूपये जमा कर सकते हैं. सरकारी या निजी किसी भी क्षेत्र में काम करने वाले इन योजनाओं में निवेश कर सकते हैं और अपना भविष्य आर्थिक रूप से सुरक्षित हैं.

First published: 22 July 2018, 15:56 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी