Home » बिज़नेस » Binny Bansal’s ‘consensual affair’ is an embarrassment for Walmart in India
 

बिन्नी बंसल पर लगे आरोपों से वालमार्ट को लगा बड़ा झटका, कंपनी ने जारी किया ये बयान

कैच ब्यूरो | Updated on: 14 November 2018, 13:18 IST

इंडियन ई-कॉमर्स कंपनी फ्लिपकार्ट ग्रुप के सह-संस्थापक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी बिन्नी बंसल पर यौन शोषण के आरोप लगने के बाद उनको इस्तीफा देना पड़ा. इस पूरे मामले को वालमार्ट के लिए बड़े झटके के रूप में देखा जा रहा है. हालही में वालमार्ट ने फ्लिपकार्ट में हिस्सेदारी खरीदी थी. वॉलमार्ट ने कहा कि 37 वर्षीय बिन्नी बंसल ने आरोपों की स्वतंत्र जांच के तुरंत बाद कदम उठाया. इस मामले की जानकारी रखने वाले लोगों का कहना है कि जुलाई के अंत में बंसल पर यह आरोप लगा था. आरोप लगाने वाला फ्लिपकार्ट कर्मचारी था, हालांकि इस मामले से परिचित लोगों का यह भी कहना था कि आरोप लगाने वाली महिला कभी वहां काम नहीं करती थी.

वाल्मार्ट ने एक बयान में कहा, "हालांकि जांच में बिन्नी के खिलाफ शिकायतकर्ता के दावे की पुष्टि करने के सबूत नहीं मिले. जांचकर्ताओं ने पाया कि बंसल का महिला के साथ एक सहमतिपूर्ण संबंध था. वॉलमार्ट ने कहा कि बंसल फ्लिपकार्ट में अपनी बड़ी हिस्सेदारी बनाए रखेंगे और बोर्ड के सदस्य बने रहेंगे. वॉलमार्ट ने अगस्त में भारतीय कंपनी में बहुमत 16 अरब डॉलर की खरीद पूरी कर ली, जिसने बंसल के शुद्ध मूल्य को 1 बिलियन डॉलर तक बढ़ा दिया. जानकारों की माने तो यह इस्तीफा वॉलमार्ट के के लिए अंतरराष्ट्रीय बाजारों में एक शर्मिंदगी है.

 

वर्तमान में फ्लिपकार्ट और प्रतिद्वंद्वी Amazon.com एक दूसरे को मात देना चाहते हैं क्योंकि लाखों भारतीय ई-कॉमर्स को इस्तेमाल करते हैं, दोनों रिटेलर्स उपभोक्ताओं को भारी छूट और विशेष उत्पादों के साथ आकर्षित कर रहे हैं. वॉलमार्ट ने आरोपों की प्रकृति का विस्तार नहीं किया. ई-कॉमर्स प्रदाता ने एक अलग आंतरिक नोट में कहा, "यह बिन्नी उनके परिवार और फ्लिपकार्ट के लिए एक दुर्भाग्यपूर्ण और चुनौतीपूर्ण स्थिति है." वॉलमार्ट ने कहा कि फ्लिपकार्ट समूह की एक इकाई फ्लिपकार्ट डिवीजन के वर्तमान में कल्याण कृष्णमूर्ति अब सीधे बोर्ड को रिपोर्ट करेंगे.

कृष्णमूर्ति 2013 में फ्लिपकार्ट में अपने अंतरिम मुख्य वित्तीय अधिकारी के रूप में शामिल हुए थे और फिर जनवरी 2017 में उन्होंने नेतृत्व किया. उन्होंने टाइगर ग्लोबल में 2011 में वित्त निदेशक के रूप में शामिल होने से पहले ईबे इंक के एशिया वित्त संचालन में सात साल बिताए.
इस दौरान न्यू यॉर्क में वॉलमार्ट शेयर 1 प्रतिशत गिर गए.

ये भी पढ़ें : स्वायत्ता पर सरकार को घेरने वाले डिप्टी गवर्नर विरल आचार्य को RBI से विदा करने की तैयारी है ?

First published: 14 November 2018, 13:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी