Home » बिज़नेस » budget 2017 interesting facts about India budget history that you didn't know
 

भारत की बजट यात्रा: बजट के इतिहास से जुड़े रोचक फैक्ट

कैच ब्यूरो | Updated on: 31 January 2017, 16:25 IST
(File Photo)

हर साल आने वाले बजट का भारत के आजाद होने से भी पुराना इतिहास हैं. भारत में वित्‍त वर्ष की शुरुआत कब हुई और किसने पहला बजट पेश किया. जानिए भारत के बजट यात्रा से जुड़ी तमाम रोचक बातें... 

कैसे बना बजट शब्द:  

बजट शब्द की उत्पत्ति फ्रेंच भाषा के 'बॉजेट' से हुई है, जिसका अर्थ होता है चमड़े का बटुआ. बजट के जरिए सरकार अगले साल के आय-व्यय का ब्योरा पेश करती है.  

जानें बजट से जुड़ें रोचक फैक्ट: 

1. जेम्स विल्सन को भारतीय बजट का संस्थापक कहते हैं. भारत का पहला बजट 18 फरवरी 1860 को वायसराय की परिषद में जेम्स विल्सन ने पेश किया था. 

2. आजाद भारत का पहला बजट तत्कालीन वित्तमंत्री आर के शनमुखम चेट्टी ने 26 नवंबर 1947 को पेश किया था.

3. पंडित जवाहर लाल नेहरू, इंदिरा गांधी और राजीव गांधी ने पीएम के साथ वित्तमंत्री भी रहते हुए बजट पेश किए थे. नेहरू ऐसे पहले पीएम थे जिन्होंने बजट पेश किया था. 

4. भारतीय इतिहास में सबसे ज्यादा बजट पेश करने का रिकॉर्ड वित्तमंत्री मोरारजी देसाई के नाम है, वित्तमंत्री रहते हुए उन्होंने दस बार बजट पेश किया था. मोरारजी देसाई के बाद अगर किसी का नाम आता है तो वे हैं पी चिदंबरम जिन्होंने 9 बार बजट पेश किया.

5. देश के लिए मौजूदा राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, यशवंत सिन्हा, वाई बी चव्हाण और सी डी देशमुख ने 7-7 बजट पेश किए हैं. प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने वित्त मंत्री के रूप में 6 बजट पेश किए हैं.  वहीं देश के चौथे वित्त मंत्री टी टी कृष्णमचारी ने भी 6 बजट पेश किए.  

6. जवाहर लाल नेहरू, इंदिरा गांधी, राजीव गांधी, चरण सिंह, एनडी तिवारी, मधु दंडवते, एस बी चव्हाण और सचिंद्र चौधरी ने एक-एक बजट पेश किया है.

7. चरण सिंह ने एक बार और मोरारजी देसाई ने चार मौकों पर उपप्रधानमंत्री और वित्त मंत्री रहते हुए बजट पेश किया.

8. साल 2000 तक आम बजट शाम 5 बजे पेश होता था, लेकिन वाजपेयी सरकार के वक्त इसे बदला गया और तब के वित्तमंत्री यशवंत सिन्हा ने इसे 11 बजे पेश करना शुरू किया था. 

9.  भारत में 1 अप्रैल से 31 मार्च तक चलने वाला वित्तीय वर्ष 1867 से शुरू हुआ। 1867 के पहले तक 1 मई से वित्तीय वर्ष शुरू होता था और 30 अप्रैल को खत्म होता था 

10. 1955-56 से बजट के दस्तावेज हिंदी में भी तैयार किए जाने लगे.

First published: 31 January 2017, 16:25 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी