Home » बिज़नेस » budget 2018 president ramnath kovind customary address, economic survey, arun jaitley, narendra modi, pm modi
 

बजट 2018: आज से शुरू होगा बजट सत्र, राष्ट्रपति के अभिभाषण से होगी शुरुआत

कैच ब्यूरो | Updated on: 29 January 2018, 9:37 IST

1 फरवरी को पेश होने वाले आम बजट सत्र के आज पहले भाग की शुरुआत होगी. इसकी शुरुआत राष्ट्रपति के अभिभाषण के साथ होगी. सुबह करीब 11 बजे राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद सेंट्रल हॉल में संयुक्त सत्र को संबोधित करेंगे. इसके साथ ही वित्त मंत्री अरुण जेटली आज इकोनॉमिक सर्वे, 2018 पेश करेंगे. इकोनॉमिक सर्वे में सरकार इकोनॉमी से जुड़े अहम मुद्दों पर अपना विजन पेश करेगी.

गौरतलब है कि राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का यह पहला अभिभाषण होगा. दरअसल राष्ट्रपति का अभिभाषण केंद्र सरकार का दस्तावेज होता है जिसमें केंद्र सरकार की पिछले साल की उपलब्धियों के साथ-साथ आगामी वित्तीय वर्ष के लिए सरकार के विज़न, योजनाओं और एजेंडे का खाका होता है. बजट सत्र का पहला भाग 29 जनवरी से 9 फरवरी तक चलेगा, वहीं दूसरा हिस्सा 6 मार्च से 6 अप्रैल तक चलेगा.

 

इकोनॉमिक सर्वे में जीएसटी, एक्‍सपोर्ट, एग्रीकल्‍चर और जॉब से जुड़ी चुनौतियों का समाधान करने के लिए जरूरी कदमों का उल्‍लेख हो सकता है. केंद्र की मोदी सरकार की यह चौथा पूर्ण बजट है. जीएसटी लागू होने के बाद यह पहला बजट है, वहीं 2019 लोकसभा चुनाव से पहले आखिरी पूर्ण बजट है. इस लिहाज़ से बजट काफी महत्वपूर्ण है.

राष्ट्रपति के अभिभाषण के तुरंत बाद उपराष्ट्रपति संक्षेप में अभिभाषण के पहले और आखिरी पैराग्राफ का अंग्रेजी अनुवाद पढ़ेंगे. संसद के संयुक्त सत्र में ही राष्ट्रपति के अभिभाषण की हिंदी और अंग्रेजी कॉपी महासचिव पटल पर रखेंगे. इसके बाद वित्त मंत्री अरुण जेटली लोकसभा में आर्थिक सर्वे पेश करेंगे. इसके बाद सदन स्थगित हो जाएगा.

गौरतलब है कि हाल ही में एक इंटरव्यू के दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने ऐसे संकेत दिए थे कि ये बजट लोकलुभावन नहीं होगा. पीएम मोदी ने कहा था कि आगामी आम बजट कोई लोकलुभावन बजट नहीं होगा और सरकार सुधारों के अपने एजेंडे पर ही चलेगी, जिसके चलते भारतीय अर्थव्यवस्था "पांच प्रमुख" कमजोर अर्थव्यवस्थाओं की जमात से निकलकर दुनिया का "आकर्षक गंतव्य" बन गया है.

 

पहली फरवरी को पेश होगा आम बजट

वित्त मंत्री अरुण जेटली 1 फरवरी को आम बजट पेश करेंगे. वित्त मंत्री के साथ इस बजट को तैयार करने में कई लोग लगे हुए हैं. इस साल टीम की अगुवाई गुजरात कैडर के आईएएस अधिकारी और वित्त सचिव हंसमुख अधिया कर रहे हैं. बजट टीम में अधिया सबसे अनुभवी अधिकारी हैं.

सरकार 29 जनवरी यानी आज आर्थिक सर्वेक्षण पेश करेगी और फिर 1 फरवरी को केंद्रीय बजट पेश किया जाएगा. डिनर के बाद सुमित्रा ने कहा कि हम उम्मीद करते हैं कि संसद का बजट सत्र सुचारू रूप से चलेगा. विभिन्न दलों के नेताओं ने सदन के सुचारू संचालन के लिए आश्वासन दिया है. 

उन्होंने कहा कि सोमवार से शुरू हो रहे बजट सत्र के प्रथम भाग में आठ बैठकें होंगी जिसमें 36 घंटे में से 19 घंटे राष्ट्रपति के अभिभाषण और केंद्रीय बजट 2018-19 के धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा होगी. नौ फरवरी तक संसद चलने के बाद अवकाश हो जाएगा और फिर पांच मार्च से 16 अप्रैल तक संसद चलेगा.

First published: 29 January 2018, 9:37 IST
 
अगली कहानी