Home » बिज़नेस » Bullet train: Japanese agency signs agreement to lend Rs 5,500 crore for the project
 

बुलेट ट्रेन : फंडिंग रोकने की ख़बरों के बीच जापान ने जारी की 5,500 करोड़ की पहली किस्त

कैच ब्यूरो | Updated on: 29 September 2018, 12:44 IST

जापान ने शुक्रवार को मुंबई-अहमदाबाद बुलेट ट्रेन परियोजना के लिए 5,500 करोड़ रुपये के ऋण को मंजूरी दे दी. जापान के दूतावास ने एक प्रेस विज्ञप्ति में कहा कि यह राशि मुंबई-अहमदाबाद हाई स्पीड रेल प्रोजेक्ट (एमएएचएसआर) की किश्त -1 का हिस्सा थी.

बुलेट ट्रेन परियोजना की प्रभारी फंडिंग बॉडी जापान इंटरनेशनल कोऑपरेशन एजेंसी (जेआईसीए) ने साथ ही हावड़ा मैदान से बीच साल्ट लेक सेक्टर वी के बीच मीटर रेल प्रणाली के लिए 1,600 करोड़ रुपये जारी किए. परियोजना के लिए किश्त -1 में ऋण की कुल राशि 25,903 मिलियन जापानी येन है, जो लगभग 5,500 करोड़ रुपये हैं. पश्चिम बंगाल परियोजना कोलकाता ईस्ट-वेस्ट मेट्रो परियोजना का हिस्सा है.

 

समझौते के कुछ दिनों बाद जेआईसीए ने भारतीय मीडिया में में आयी उन रिपोर्टों से इनकार कर दिया था जिनमे कहा गया था कि उसने बुलेट ट्रेन गलियारे के लिए अपनी फंडिंग रोक दी है.

22 सितंबर को मीडिया में रिपोर्ट आयी थी कि जापानी सरकार ने बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट को फंड जारी करने से इंकार कर दिया है. रिपोर्ट में यह भी दावा किया गया है कि केंद्र सरकार ने इस मामले को देखने के लिए एक विशेष समिति की स्थापना की है.

ये भी पढ़ें : इस राज्य से हैं देश के सबसे ज्यादा करोड़पति, मुकेश अंबानी भी सूचि में शामिल

First published: 29 September 2018, 11:15 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी