Home » बिज़नेस » Buying a car and bike cheaper today, know what has changed in the rules of motor insurance
 

आज से कार और बाइक खरीदना हुआ सस्ता, जानिए मोटर इंश्योरेंस नियमों में क्या हुआ बदलाव

कैच ब्यूरो | Updated on: 1 August 2020, 13:28 IST

आज से देश में नई कार और दोपहिया वाहन खरीदना सस्ता हो जायेगा. आज से वाहन बीमा प्रदाताओं को नए यात्री वाहन मालिकों को लॉन्ग टर्म ऑन डैमेज (ओडी) पॉलिसी कवर बेचने की अनुमति नहीं दी जाएगी. यानी इरडा ने लॉन्ग टर्म पैकेज्‍ड थर्ड पार्टी और ऑन-डैमेज पॉलिसी के नियम को वापस ले लिया है. इससे दो फायदे होंगे, पहला- ग्राहकों को बीमा पॉलिसी के लिए हाई अपफ्रंट प्रीमियम का भुगतान नहीं करना होगा और दूसरा उन्हें एक साल बाद अपने बीमा प्रदाता को बदलने की स्वतंत्रता होगी.

पहले कार के लिए 3 साल का और टू व्हीलर्स के लिए 5 साल का थर्ड पार्टी कवर लेना जरूरी कर दिया गया था, जिससे कार या बाइक खरीदते समय उसकी कीमत बढ़ जाती थी. वाहन डीलर अब ग्राहकों को लॉन्ग टर्म ऑन डैमेज (OD)खरीदने के लिए बाध्य नहीं कर सकते हैं. इस नए नियम की घोषणा IRDAI ने जून में की थी. ऐसा इसलिए किया गया ताकि नए वाहन मालिकों को खरीद के समय वाहन की अधिक लागत न चुकानी पड़े. भारत के सुप्रीम कोर्ट ने 2018 में नए दोपहिया और कार मालिकों के लिए वाहन खरीदने के समय पांच-वर्षीय और तीन-वर्षीय थर्ड पार्टी बीमा अनिवार्य कर दिया था.


Coronavirus Impact: भारत का क्रूड ऑयल इंपोर्ट पांच साल के सबसे निचले स्तर पर

इरडा ने बीमाकर्ताओं के लिए अगस्त 2018 से कारों के लिए 3 साल की मोटर पॉलिसी और सितंबर 2018 से टू व्हीलर्स के लिए 5 साल की मोटर पॉलिसी अनिवार्य की थी. 2018 में 1.80 करोड़ में से केवल 60 लाख वाहनों के पास इंश्‍योरेंस कवर थे. मोटर व्हीकल्स एक्ट के तहत सभी मोटर वाहनों के लिए थर्ड पार्टी मोटर इंश्योरेंस या थर्ड पार्टी बीमा कवर लेना आवश्यक है. अगर आपके वाहन से किसी दूसरे को नुकसान होता है तो यह बीमा पॉलिसी में यह नुकसान कवर होता है.

बिना सब्सिडी वाले रसोई गैस सिलेंडर को लेकर आई बड़ी खुशखबरी, जानिए क्या है आपके शहर का रेट

First published: 1 August 2020, 13:28 IST
 
अगली कहानी