Home » बिज़नेस » car sale figures growth increases in the month of july after launce gst and cut the rate by automobile companies.
 

कारों की ब्रिकी पर GST का असर, जुलाई में कार कंपनियों ने मनाई दिवाली

कैच ब्यूरो | Updated on: 2 August 2017, 11:57 IST

जुलाई की महीने में कार कंपनियों की ब्रिकी में ज़बरदस्त इजाफा हुआ है. जुलाई में घरेलू यात्री वाहनों की बिक्री 15 फीसदी से ज्यादा बढ़ी है, जो पिछले सात महीने में सर्वाधिक है.

जानकार इसकी वजह जीएसटी को बता रहे हैं. जुलाई में मारुति सुजुकी, महिंद्रा एंड महिंद्रा, होंडा और टोयोटा की बिक्री दो अंकों में बढ़ी है, क्योंकि डीलरों ने जून में लगभग खाली हो गए गोदाम नए सिरे से भरे हैं. 

देश की सबसे बड़ी कार कंपनी मारुति सुजुकी ने जुलाई में 153,298 कार बेचीं, जो पिछले साल के जुलाई की तुलना में 22 फीसदी ज्यादा है. भारत की ही टाटा मोटर्स के यात्री वाहनों की बिक्री में 10 फीसदी की वृद्धि दर्ज की गई और जुलाई में कंपनी ने 14,933 कार बेचीं.

दक्षिण कोरियाई कार कंपनी हुंडई ने भी बिक्री में 4 फीसदी इजाफा दर्ज करते हुए 43,007 कार बेचीं. वहीं जापानी कार कंपनी टोयोटा ने जुलाई में 17,758 कार बेचीं और यह आंकड़ा पिछली जुलाई से 43 फीसदी अधिक है. इसके अलावा एक अन्य जापानी कंपनी होंडा की बिक्री भी जुलाई में 22 फीसदी बढ़कर 17,085 कार रही.

गौरतलब है कि जून के महीने में भी कारों की ब्रकी में 11 फीसदी का इज़ाफा हुआ था. वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) लागू होने से पहले इन कंपनियों से पहले स्टॉक घटाने के लिए कीमतों में छूट दी थी. अगस्त में उद्योग में इस तरह की तेजी बनी रहने की संभावना कम ही है. इसकी वजह यह है कि जुलाई में खुदरा बिक्री बहुत अधिक नहीं बढ़ी, क्योंकि छूट का फायदा उठाने के लिए लोगों ने जून में ही गाड़ियां खरीद ली थीं.

First published: 2 August 2017, 11:57 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी