Home » बिज़नेस » CBI detains owner of Rotoramac company, accuses him of not paying Rs 800 crore bank loan
 

CBI ने रोटोमैक कंपनी के मालिक को हिरासत में लिया, 800 करोड़ का बैंक लोन न चुकाने का आरोप

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 February 2018, 12:07 IST

पीएनबी घोटाले के बाद अब रोटोमैक कंपनी के मालिक विक्रम कोठारी पर भी सीबीआई का सिकंजा कसता जा रहा है. इस मामले में सीबीआई ने कोठारी को हिरासत में लिया है, जहां उनसे पूछताछ की जा रही है. कोठारी पर 800 करोड़ का बैंक लोन न चुका पाने का मामला चल रहा है.

आरोप के मुताबिक कोठारी ने इलाहाबाद बैंक, बैंक ऑफ इंडिया और यूनियन बैंक ऑफ इंडिया समेत कई सरकारी बैंकों से लोन लेकर नहीं चुकाया. सोमवार को सीबीआई ने कानपुर में उनके तीन ठिकानों पर छापेमारी भी की.

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक कोठरत का कहना है कि कोठारी ने कहा, 'मैं कानपुर का वासी हूं और मैं शहर में ही रहूंगा. हालांकि कारोबारी काम की वजह से मुझे विदेश यात्राएं भी करनी होती हैं.'

कोठारी ने मुंबई स्थित यूनियन बैंक ऑफ इंडिया से 4.85 अरब रुपये का कर्ज लिया और कोलकाता स्थित इलाहाबाद बैंक से 3.52 अरब रुपये का ऋण लिया .एक साल बाद, कोठारी ने कथित रूप से ब्याज वापस नहीं चुकाया है. पिछले साल बीओबी, एक कंसोर्टियम पार्टनर ने पेन निर्माता रोटोमैक ग्लोबल को एक डिफॉल्टर" घोषित किया था. 

First published: 19 February 2018, 12:07 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी