Home » बिज़नेस » charging station for electric vehicles EVs on Indian roads by government
 

चार्जिंग स्टेशन खोलकर करें पेट्रोल पंप जैसी कमाई, जानें कैसे मिलेगी फ्रेंचाइजी

कैच ब्यूरो | Updated on: 18 May 2019, 18:14 IST

बढ़ते प्रदूषण के कारण ग्लोबल वार्मिंग के खतरे को भांपते हुए दुनिया के कई देशों ने अब इलेक्ट्रिक व्हीकल्स को प्राथमिकता देना शुरू कर दिया है. भारत में भी अगले साल से मारुति ने अपनी डीज़ल कारों को बंद करने का फैसला किया है. जब इलेक्ट्रिक वाहन चलेंगे तो उन्हें चार्जिंग की भी जरुरत पड़ेगी. इसके लिए सरकार ने जगह-जगह पेट्रोल पंप की तरह चार्जिंग स्‍टेशन खोलने का फैसला किया है. ऐसे में चार्जिंग स्‍टेशन खोलकर अच्छी-खासी कमाई करने का मौका भी मिलेगा.

केंद्र सरकार ने लक्ष्य निर्धारित किया है कि साल 2030 तक देश भर में 25 से 30 प्रतिशत व्हीकल्स इलेक्ट्रिक हों ताकि कम से कम प्रदूषण हो. इस दिशा में पहल शुरू हो चुका है, वहीं चालू वित्त वर्ष में 4500 चार्जिंग स्टेशन बनाने की योजना है. ये सभी पॉइंट्स नेशनल और स्टेट हाईवे पर बनाए जाएंगे. प्रत्येक 25 किलोमीटर पर दोनों तरफ एक पब्लिक चार्जिंग स्टेशन बनाने की योजना है. सरकार ने आवासीय इलाकों में भी चार्जिंग प्वाइंट्स लगाने की बात कही है.

भारत के 25 शहरों में जापान की कंपनी पैनासॉनिक (Panasonic) करीब 1 लाख स्‍ट्रॉन्‍ग चार्जिंग स्‍टेशन प्लांट करने की तैयारी कर रही है. कंपनी का लक्ष्य भारत में इलेक्ट्रिक वाहनों की बढ़ती संख्‍या को देखते हुए उसके मुताबिक चार्जिंग पॉइंट लगवाने की है. यह जापानी कंपनी पार्किंग, मॉल, पेट्रोल पंप और अन्य सार्वजनिक जगहों पर चार्जिंग स्‍टेशन लगाएगी. इसके साथ-साथ फ्रेंचाइजी भी उपलब्ध कराएगी जिससे आम लोग जुड़कर लाखों रूपये महीने की कमाई कर सकते हैं.

4 लाख रुपये लागत

चार्जिंग स्टेशन खोलने के लिए कंपनी विज्ञापन जारी करेगी और इसके टर्म-कंडीशन की जानकारी दी जाएगी. एक स्टेशन की लागत 4 लाख रुपये अनुमानित है. यानि 4 लाख रुपये का खर्च कर आप इसे लगवा सकते हैं. चार्जिंग स्‍टेशन के लिए अगल से पावर सप्लाई करने की जाएगी.

First published: 18 May 2019, 18:14 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी