Home » बिज़नेस » cooperative dairies said, Milk prices are likely to go up in 2019
 

इस साल दूध की कीमतों में हो सकती है बड़ी बढ़ोतरी, सहकारी डेयरियों गिनाये ये कारण

कैच ब्यूरो | Updated on: 2 January 2019, 12:04 IST

साल 2019 में दूध की कीमतें बढ़ने की संभावना है, सहकारी डेरियों का कहना है कि आपूर्ति सामान्य से कम होने के कारण कीमतें बढ़ सकती हैं. किसानों ने कहा कि सर्दियों में दूध के उत्पादन में गिरावट आई है, जबकि आपूर्ति बढ़ने लगी है. गुजरात कोऑपरेटिव मिल्क मार्केटिंग फेडरेशन के प्रबंध निदेशक आरएस सोढ़ी जो अमूल ब्रांड का मालिक ने कहा, "दूध की कीमतें 2019 में बढ़ने के लिए बाध्य हैं. पिछले साल की तुलना में स्किम्ड मिल्क पाउडर (एसएमपी) के कम स्टॉक और दूध की आपूर्ति में गिरावट दो प्रमुख कारण हैं."

उन्होंने कहा ''कुछ सहकारी समितियों को छोड़कर डेयरियां किसानों को अच्छी कीमत नहीं दे पा रही हैं, उन्होंने कहा कि किसानों के लिए मवेशियों की खरीद में कमी आयी है''. उन्होंने कहा, "सर्दियों के दौरान दूध की आपूर्ति में 15 प्रतिशत वृद्धि की तुलना में, इस साल हमने अमूल द्वारा 248 लाख लीटर की दैनिक खरीद के साथ केवल 2 प्रतिशत की वृद्धि देखी है."

2017 में डेयरी कोऑपरेटिव ने दूध और दूध उत्पाद की कीमतों में 2 रुपये प्रति लीटर की बढ़ोतरी की थी. एसएमपी की उपलब्धता और स्थिर कमोडिटी की कीमतों ने 2018 में कीमतों को स्थिर रखने में मदद की. उद्योग के अनुमान के मुताबिक दिसंबर के अंत में देश में स्किम्ड मिल्क पाउडर के स्टॉक 700,000 टन हैं.

First published: 2 January 2019, 12:05 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी