Home » बिज़नेस » Corona crisis hit the hotel industry, Oyo sent many people leave without salary
 

होटल इंडस्ट्री पर कोरोना संकट की मार, Oyo ने कई लोगों को बिना सैलरी भेजा छुट्टी

कैच ब्यूरो | Updated on: 9 April 2020, 14:30 IST

कोरोना वायरस के संकट ने होटल कारोबार की कमर तोड़कर रखी दी है. एक रिपोर्ट के अनुसार ओयो ने अपने कई कर्मचारियों को बिना सैलरी के छुट्टियों पर भेज दिया है. ओयो के संस्थापक रितेश अग्रवाल ने बुधवार को अपने कर्मचारियों से कहा है कि कोरोना वायरस महामारी की वजह से 60 से 90 दिनों के लिए कई देशों में कंपनी के कर्मचारियों को अस्थाई रूप से छुट्टी पर भेजा जा रहा है.

कर्मचारियों से अग्रवाल ने कहा कि उनके संबंधित देशों की एचआर टीम उन्हें इन अस्थायी छुट्टियों का विवरण देगी. अग्रवाल ने कहा कि पिछले कुछ हफ्तों से स्थिति लगातार बिगड़ रही है. ओयो के राजस्व और कारोबार में 50-60 फीसदी से अधिक की गिरावट देखि गई है. अग्रवाल ने कहा है कि इस वजह से कंपनी की बैलेंस शीट गंभीर तनाव में आ गई थी. COVID-19 ने ओयो को मुश्किल में डाल दिया है.


 

इससे पहले ओयो ने लागत कम करने के उद्देश्य से रीस्ट्रक्क्चरिंग की घोषणा की थी और इसमें काफी संख्या में नौकरी में कटौती हुई थी. पिछले महीने ब्लूमबर्ग को दिए एक इंटरव्यू में अग्रवाल ने कहा कि कंपनी पुनर्गठन के हिस्से के रूप में दुनिया भर में लगभग 5,000 कर्मचारियों को नौकरी से निकल देगी.

एक रिपोर्ट के अनुसार ओयो ने यूएस में सैकड़ों कर्मचारियों को मिड-मार्च से सेल्स और एचआर जैसे विभागों से नौकरी से निकाल दिया. अप्रैल के पहले सप्ताह में कर्मचारियों को बर्खास्त भी किया गया था. अग्रवाल ने कहा कि छुट्टियों में प्रभावित कर्मचारियों के लिए स्वास्थ्य सेवा और चिकित्सा के सभी लाभ जारी रहेंगे.

Coronavirus : उद्योगों में जान डालने के लिए सरकार कर सकती है 75,000 करोड़ के प्रोत्साहन पैकेज की घोषणा

First published: 9 April 2020, 14:30 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी