Home » बिज़नेस » COVID-19: Indian Oil insures 3.23 employees including its pump attendant, delivery boy and driver
 

COVID-19 : इंडियन ऑयल ने किया अपने पंप अटेंडेंट, डिलीवरी बॉय सहित 3.23 लाख कर्मचारियों का बीमा

कैच ब्यूरो | Updated on: 2 April 2020, 10:25 IST

इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन ने कोरोनवायरस वायरस महामारी के मद्देनजर अपने 3.23 लाख कर्मचारियों के मेडिकल बीमा की घोषणा की है. इसमें पंप अटेंडेंट, डिलीवरी बॉय और ड्राइवर भी शामिल हैं. इंडियन आयल ने एक वर्ष के लिए 22.68 करोड़ की कुल लागत पर बीमा खरीदे हैं.

इंडियन ऑयल ने एक वर्ष के लिए 22.68 करोड़ रुपये की लागत से 3.23 लाख पंप अटेंडेंट, डिलीवरी बॉय, एलपीजी और पीओएल के ड्राइवरों के लिए मीडियल बीमा की खरीद की है. कंपनी ने COVID -19 से संबंधित मामलों सहित मेडिकल ट्रीटमेंट के लिए 1 लाख का प्रति सदस्य बीमा ला आश्वासन दिया है.


केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार भारत में COVID-19 के 1397 पुष्ट मामले हैं जिनमें 123 रिकवरी और 35 मौतें शामिल हैं. तेल और प्राकृतिक गैस कॉर्प (ONGC), IOC और अन्य सार्वजनिक क्षेत्र की तेल कंपनियों ने COVID-19 महामारी के खिलाफ लड़ाई में मदद करने के लिए प्रधानमंत्री कार्स फंड में (1,000 करोड़ से अधिक का योगदान दिया है. 

ओएनजीसी ने 300 करोड़ का सबसे ज्यादा दान दिया है. जिसके बाद आईओसी ने 225 करोड़, BPCL ने 175 करोड़, हिंदुस्तान पेट्रोलियम कॉर्प लिमिटेड (HPCL) ने 120 करोड़ का योगदान दिया है. इसके अलावा पेट्रोनेट एलएनजी लिमिटेड ने 100 करोड़, गेल ने 50 करोड़ और ऑयल इंडिया लिमिटेड ने 38 करोड़ दिए हैं. 

ONGC के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक शशि शंकर ने कहा कि कंपनी ने अपने कॉर्पोरेट सामाजिक दायित्व (CSR) फंड से 300 करोड़ दिए जबकि कंपनी के कर्मचारियों ने निधि में 16 करोड़ रुपये की कुल राशि दो दिन के वेतन का योगदान दिया. नोएडा में, ओएनजीसी के कर्मचारियों ने अपने व्यक्तिगत स्तर पर 100 खाद्य पैकेट पुलिस को सौंपे. बीपीसीएल और उसकी सहायक कंपनियों ने कोरोनोवायरस का मुकाबला करने में सरकार की मदद करने के लिए पीएम कार्स फंड में 175 करोड़ रुपये दिए हैं.

LPG Cylinder की कीमत में हुई भारी कटौती, यहां जानिए नई कीमतें

First published: 1 April 2020, 12:13 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी